Breaking News

अखिलेश के समाजवादी पेंशन योजना पर योगी का विराम, दिया जांच के आदेश

yogi-adityanath-759
-साइकिल ट्रैक पर चल सकता है हथौड़ा
-अधिकतर योजनाओं से अखिलेश की तस्वीर हटी
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के अधिकतर योजनाओं पर तिरछी नजर किए हुए है। इस बीच योगी सरकार अखिलेश यादव के कई ड्रीम प्रोजेक्ट को रडार पर ले लिया है। जिसमें से अखिलेश यादव की सबसे बड़ी योजना समाजवादी पेंशन योजना पर योगी सरकार ने तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है और इसके पात्रता की जांच के आदेश जारी कर दिए है।
पिछले कुछ दिनों से योगी सरकार चुन-चुन कर अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी के शासन के दौरान शुरू की गई योजनाओं को या तो बंद कर रही है या उनमें जांच के आदेश दे रही है। एक तरफ राज्य भर में बनाए साइकिल ट्रैक्स अब इस सरकार के निशाने पर हैं तो दूसरी तरफ समाजवादी पेंशन योजना रोक दी गई है। यह पेंशन योजना अखिलेश यादव के न सिर्फ ड्रीम प्रोजेक्ट में शुमार था बल्कि इसे अखिलेश यादव ने अपना सबसे बड़ा चुनावी मुद्दा भी बना रखा था। चुनाव के पहले अखिलेश यादव घूम-घूमकर समाजवादी पेंशन योजना को दोगुना करने की बात कर रहे थे लेकिन अब योगी सरकार इस योजना को ही फिलहाल रोकने जा रही है। अखिलेश सरकार समाजवादी पेंशन के तहत महिलाओं को 500 हर माह देती थी जिसे चुनाव के दौरान उन्होंने 1000 रुपये करने का वादा किया था लेकिन योगी सरकार इसे रोक कर कुछ नया करने की तैयारी में है। योगी आदित्यनाथ की सरकार इससे पहले समाजवादी एंबुलेंस, अखिलेश के तस्वीर वाली राशन कार्ड, समाजवादी नमक, सरीखे कई नाम बदल चुकी है. अब देखना यह है कि योगी सरकार इस पूरी पेंशन योजना को बंद करती है या फिर नए कलेवर में नए नाम के साथ पेश करती है।

Share

Related posts

Share