अब आईटीआई होंगे 10 बोर्ड के समतुल्य, होगी बोर्ड परीक्षा

ITI
-सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड की तर्ज पर आईटीआई संस्थानों के लिए अलग बनेगा बोर्ड
नई दिल्ली। केन्द्र सरकार अब आईटीआई को 10 वीं के समतुल्य बनाने पर  विचार कर रही है। उनकी बकायदा बोर्ड की परीक्षा ली जायेगी। देश में आईटीआई संस्थानों में बुनियादी ढांचे और प्रशिक्षण की खराब स्थिति को देखते हुए सरकार अब इस पर गंभीरता से विचार कर रही है। इसके लिए सरकार सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड की तर्ज पर आईटीआई संस्थानों की परीक्षा के लिहाज से एनसीवीटी के लिए भी अलग बोर्ड बनायेगी।
केंद्रीय कौशल विकास मंत्री राजीव प्रताप रूड़ी ने आज लोकसभा में प्रश्नकाल में कहा कि देश में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के खुलने और उनके संचालन को लेकर अनियमितताएं सामने आती रहीं हैं। सरकार अब इस ओर ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में आईटीआई संस्थान भी केंद्रीय विद्यालयों की तरह खुलेंगे, जहां गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके लिए सीबीएसई और आईसीएसई की तर्ज पर राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रशिक्षण परिषद के लिए अलग बोर्ड बनाया जाएगा, जो आईटीआई की परीक्षाओं का संचालन करेगा और आईटीआई प्रशिक्षण प्राप्त करके उत्तीर्ण होने वाले छात्रों को दसवीं कक्षा के समतुल्य माना जाएगा। उन्होंने कहा कि एनसीवीटी बोर्ड कौशल विकास मंत्रालय के अधीन रहेगा।

Share
See also  सुप्रीम कोर्ट स्कूल में बच्चों की सुरक्षा संबंधित याचिका पर 15 सितंबर को करेगा सुनवाई

Leave a Reply

Share