Breaking News

अब कांग्रेस ने खोला मोर्चा: इंडिया गेट पर धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी, कई मेट्रो स्टेशन बंद किए गए

-जामिया मिलिया में रविवार को छात्रों के ऊपर लाठीचार्ज के विरोध में
-देश गुंडों की जागीर नहीं: प्रियंका गांधी

नई दिल्ली। नागरिकता कानून ने केन्द्र सरकार की मुसीबत बढा दी है। कई राज्यों में उग्र होते विरोध के चलते अब भाजपा सकते में हैं। आज इसी क्रम में कांग्रेस भी पूरी तरह से मोर्चा खोल दिया है। महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे व जामिया में लाठी चार्ज के विरोध में आज कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी इंडिया गेट पर धरने पर बैठ गई। जिसके चलते प्रशासन में अफरातफरी मच गयी। डीएमआरसी ने पटेल चैक, केंद्रीय सचिवालय और उद्योग भवन के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए हैं। पटेल चैक और उद्योग भवन में मेट्रोन नहीं रुकेगी। इससे पहले जामिया मिलिया इस्लामिया में सुबह धरना- प्रदर्शन के विरोध में प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए गए थे।
गौरतलब है कि एक ओर महिला की सुरक्षा को लेकर पूरे देश में महिलाएं, सामाजिक संगठन व विपक्ष सरकार को घेरने में लगा है। ऐसे में नागरिक कानून ने आग में घी डालने का काम कर दिया है। देश के आधा दर्जन राज्य इस कानून के विरोध में सुर किए है। इन राज्यों में जबरदस्त हिंसा हो रही है। सरकारी सम्पत्तियों को नुकसान पहुचाया जा रहा है। इसी क्रम में दिल्ली में रविवार को जामिया के छात्रों पर पुलिस का लाठी चार्ज ने माहौल को पूरी तरह से बिगाड दिया। कई बसों को आग के हवाले कर दिया गया। जिसकों लेकर आज कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी इंडिया गेट पर धरने पर बैठी हैं। दरअसल, जामिया में प्रदर्शन के दौरान कई छात्राएं घायल हो गईं। छात्राओं का आरोप है कि दिल्ली पुलिस ने उनपर हमला किया, साथ ही कैंपस में आंसू गैस के गोले छोड़े गए।
प्रियंका गांधी के साथ-साथ उनके समर्थक भी धरने पर बैठे। कांग्रेस महासचिव ने कहा है कि देश गुंडों की जागीर नहीं है। कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि 2 घंटे का ये प्रदर्शन 4 बजे शुरू हुआ। उन्होंने कहा कि जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के छात्रों के साथ एकजुटता व्यक्त करना है। पुलिस ने रविवार को छात्रों के खिलाफ बल का इस्तेमाल किया था।. संशोधित कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के बाद हिंसक प्रदर्शन हुए जिसमें बसों को आग लगा दी गई।
प्रियंका गांधी के साथ केसी वेणुगोपाल, पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी, अहमद पटेल और पार्टी के सैकडों कार्यकर्ता भी धरने पर बैठे हैं।

Share

Related posts

Share