Breaking News

आंधी तूफान से 4 राज्यों में 68 की मौत, दर्जनों घायल, आगजनी से 100 घर जलकर राख, करोडों का नुकसान, फिर आ सकता है विनाशकारी आंधी-तूफान

dddddddddd

विजय श्रीवास्तव
-पीएम मोदी ने जताया दुख, मदद मुहैया कराने के दिए निर्देश
– दिल्ली में 109 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चली आंधी
-अलीगढ़ में 12 वीं तक के सभी स्कूलों को सोमवार को बंद रखने का आदेश
-भाजपा सांसद हेमा मालिनी बाल बाल बची
नई दिल्ली/लखनऊ/वाराणसी। रविवार की देर शाम से जो अंाधी -तूफान ने अपना कहर बरसाना शुरू किया तो वह देर रात तक चला। इस विनाशकारी तूफान के चलते चार राज्यों में लगभग 68 लोंगो की मौत की जानकारी मिल रही है। आंधी -तूफान की कहर विशेष रूप से उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश और दिल्ली में दिखा। रविवार देर शाम दिल्ली से जो आंधी-तूफान और बारिश ने जमकर कहर बरसाना शुरू किया वह देर रात तक चला जिससे 68 लोगों की मौत हो गई, वहीं कई लोग घायल हो गये। खराब मौसम को देखते हुए अलीगढ़ में 12 वीं तक के सभी स्कूलों को सोमवार को बंद रखने का आदेश दिया गया। इस आंधी-तूफान में भाजपा सांसद हेमा मालिनी भी फंस गयी। उनके काफिले के ठीक आगे पेड़ गिर गया, जिससे भाजपा सांसद हेमा मालिनी बाल बाल बचीं।

SHINE BACK
प्राप्त जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में आंधी के कारण 38 लोगों की मौत की जानकारी मिली है वहीं पश्चिम बंगाल में आंधी के कारण 4 बच्चों समेत कम से कम 12 लोग मारे गये। आंध्र प्रदेश में 11 और दिल्ली में 2 लोगों के मरने की सूचनाए मिल रही है। कई वाहनों पर तूफान से पेड गिरने से वह क्षत्रिग्रस्त हो गयें। जिससे कई लोग घायल हो गये। सडकों पर पेड गिरने दर्जनों घटना से जगह-जगह जाम की स्थिति उत्पन्न हो गयी। सबसे खराब स्थिति उत्तर प्रदेश में संभल के राजपुरा में बिजली गिरने के चलते आग ने घरों को अपने चपेट में ले लिया। जिससे देखते ही देखते 100 से अधिक घर जलकर राख हो गए। कई स्थानों पर ओले व तेज वारिस की भी खबर है। वाराणसी में भी आंधी तूफान के साथ ही थोडी देर तेज वारिस हुई। जिससे विगत कई दिनों से गर्मी से लोंगो को राहत मिली। दिल्ली समेत उत्तर भारत में कई जगहों पर आयी प्रचंड आंधी के चलते बड़ी संख्या में पेड़ गिर गये जिससे सड़क, रेल एवं वायु सेवाएं प्रभावित हुयीं।

meridiyan 1

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आंधी के कारण लोगों की मौत पर दुख प्रकट किया. उन्होंने अधिकारियों को प्रभावित लोगों की हर संभव मदद मुहैया कराने का निर्देश दिया. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘देश के कुछ हिस्सों में आंधी के चलते लोगों की मौत की सूचना से दुखी हूं. शोक संतप्त परिजन को मेरी संवेदनाएं. घायलों के जल्द स्वस्थ होने की ईश्वर से प्रार्थना करता हूं।‘‘ वहीं दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर पार्टी कार्यकर्ताओं से मृतकों के शोक संतप्त परिजन को हर संभव मदद करने के लिये कहा। राहुल के अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी आंधी तूफान में जान गंवाने वाले लोगों के प्रति दुख प्रकट किया।
इस बीच अभी भी मौसम विभाग ने आंधी तूफान की भविष्यवाण्ी की हेैं । मौसम विभाग ने कहा है कि दिल्ली समेत, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, झारखंड, मिजोरम, असम, तमिलनाडु, कर्नाटक और केरल में अगले दो-तीन दिनों तक तेज हवाओं और तूफान का अनुमान है। गौरतलब है कि पहले ही मौसम विभाग ने रविवार और सोमवार के लिए फिर अलर्ट जारी किया था। मौसम विभाग के मुताबिक, आगामी दो दिनों में फिर से यूपी में आंधी, तूफान और बारिश का खतरा है। मौसम विभाग ने यूपी सभी जिलों के लिए अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग की चेतावनी के बाद शासन भी अलर्ट पर है। शासन की तरफ से सभी मंडलायुक्त और जिलाधिकारियों को इस संबंध में सूचित किया गया है और किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं।

24timestoday (1)

 

 

Share

Related posts

Share