Breaking News

आखिरकार अग्निपरीक्षा में खरें उतरें नीतीश, पक्ष में पड़े 131 वोट वहीं विरोध में 108

ababa
-आज या कल होगा मंत्रीमंडल का विस्तार
-जेडीयू-बीजेपी सरकार के विरुद्ध राजद की याचिका हाईकोर्ट ने मंजूर कर
पटना। आखिरकार बिहार विधानसभा में हुए राजनीतिक सियासती मैच में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बहुमत हासिल करने में सफलता प्राप्त कर ली। इस दौरान नीतीश के पक्ष में जहां 131 वोट पड़े, वहीं विपक्ष में 108 वोट मिले। इस तरह से छठी बार नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री बन गये। संभवतः आज या कल में मंत्रिमंडल का विस्तार होगा। जिसमें भाजपा व नीतीश की पार्टी के लोग शामिल होंगे।
गौरतलब है कि आज सुबह 11 बजे विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए अग्निपरीक्षा के पहले पहले पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने नीतीश पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि वे सत्ता के भूखे है। उन्होंने बिहार के जनता को देखा दिया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि मैं इस प्रस्ताव के विरोध में खड़ा हूं. हमें बीजेपी के खिलाफ वोट मिला था, ये सब प्रीप्लान था. ये एक तरह से लोकतंत्र की हत्या है. बीजेपी के भी कई मंत्री हैं जिनपर आरोप हैं, नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर भी आरोप हैं। तेजस्वी ने कहा कि कांग्रेस और राजद ने मिलकर नीतीश कुमार के वजूद को बचाया था, नीतीश ने बिहार की जनता को धोखा दिया।
जवाब में नीतीश कुमार ने कहा कि ये कांग्रेस के लोग हैं अहंकार में जीने वाले लोग हैं। नीतीश ने कहा कि मैंने जो भी किया है बिहार के हित में किया है।
नीतीश ने कहा कि 15 से ज्यादा सीटें कांग्रेस को नहीं मिलने वाली थी लेकिन हमने महागठबंधन में 40 सीटों पर चुनाव लड़वाया। विश्वास मत से पहले राजद विधायक लगातार हंगामा कर रहे हैं। राजद विधायकों ने विधानसभा के बाहर धरना भी दिया।
उधर, बिहार में जेडीयू-बीजेपी सरकार के विरुद्ध राजद की याचिका हाईकोर्ट ने मंजूर कर ली है. इसको लेकर सुनवाई सोमवार को होगी।

Share

Related posts

Share