आयुष्मान भारत योजना कैबिनेट की मुहर, 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपये तक हेल्थ बीमा मिलने का रास्ता साफ

 

ayushman-bharat-programme-2018
-यह योजना 31 मार्च 2020 तक चलेगी
-केंद्र सरकार इसके लिए 85,217 करोड़ रुपये खर्च करेगी
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक और महत्वाकांक्षी योजना नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन स्कीम यानी आयुष्मान भारत को केंद्रीय कैबिनेट ने मंजूरी दे दी। इस योजना के तहत अब 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपये तक हेल्थ बीमा मिलने का रास्ता साफ हो गया है। इस योजना की घोषणा इस साल के आम बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने की थी। यह योजना 31 मार्च 2020 तक चलेगी और केंद्र सरकार इसके लिए 85,217 करोड़ रुपये खर्च करेगी। इस योजना में केन्द्र जहां 60 प्रतिशत वहीं राज्य सरकारें 40 प्रतिशत खर्च करेंगी।
गौरतलब है कि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस वर्ष पेश किए गए बजट में दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना ‘आयुष्मान भारत‘ की घोषणा करते हुए कहा था कि इसके तहत करीब 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख रुपये का मेडिकल कवर भी दिया जाएगा। साथ ही इस योजना का लाभ देश की 40 फीसदी आबादी यानी 50 करोड़ लोगों को मिलेगा। इस योजना के तहत हर परिवार को 5 लाख रुपये तक का हेल्थ इंश्योरेंस मिलेगा। इस योजना का लाभ आर्थिक आधार पर निर्धारित होगा। इस योजना के दायरे में आने वाले परिवारों को सरकारी और चुने हुए प्राइवेट अस्पतालों में इलाज की सुविधा मिलेगी। जो परिवार इस योजना के तहत आएंगे उन्हें इलाज की सुविधा देश भर में कहीं भी मिल सकेगी। इसके लिए देशभर में 1.5 लाख स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे।
आम लोगों को 5 लाख रुपये की बीमा का फायदा तब मिलेगा जब बीमारी बड़ी या फिर गंभीर होने की स्थिति में वह हॉस्पिटल में भर्ती होगा, लेकिन स्वास्थ्य केंद्रों का फायदा छोटे और बड़े हर तरह के बीमार लोगों को तुरंत मिलेगा। सरकार इसके लिए पूरे देश में डेढ लाख स्वास्थ्य केन्द्र खोलेगी। इससे बीमार लोगों के लिए घर के करीब ही इलाज कराना सुलभ हो जाएगा. खासकर दूर-दराज और ग्रामीण अंचलों में रहने वाले लोगों के लिए. उनकी महंगे निजी हॉस्पिटल पर निर्भरता कम होगी.

 

 

Share

Related posts

Share