Breaking News

इधर मां कर रही थी देवी की आराधना उधर बेटी खुशी ने ट्रेन के आगे कूद कर दे दी जान

pppp

विजय श्रीवास्तव
-लोहिया नगर कालोनी, आशापुर में स्थित रेलवे ट्रेक पर हुई वारदात
-कही ब्लू गेम के चलते तो नहीं दी खुशी ने जान
-राज इंग्लिश स्कूल की हाईस्कूल की थी छात्रा
-आज अन्तिम पेपर भौतिक विज्ञान का था
-नाम था खुशी लेकिन दे दिया जीवन भर का गम
वाराणसी। नवरात्र में देवी मां की आराधना कर रही एक मां को बेटी ने ऐसा जख्म दिया, जिससे वह जीवन भर नहीं उबर पायेगी। रमरेपुर स्थित राजइंग्लिश स्कूल की हाईस्कूल की छात्रा आचल सिंह (15 वर्ष) ने आशापुर स्थित लोहिया नगर कालोनी में स्थित रेलवे ट्रेक पर कूद कर जान दे दी। आचल का आज भोैतिक विज्ञान का अन्तिम पेपर था। जानकारी के बाद घटना स्थल पर पहुंचे परिजनों का रोकर बुरा हाल रहा। पुलिस घटना की जांच कर रही है।
देवरिया के मूलरूप से निवासी कमलेश सिंह अपने पत्नी कमला सिंह के साथ अपनी बेटी आचल सिंह व बेटे के साथ रहते हैं। उनका हरियाणा में व्यापार है। आज सुबह मां कमला का कहना है कि उन्होंने अपनी बेटी खुशी(आचल) को बिस्कुट व चाय दी। टिफिन देने पर बेटी ने कहा कि मां भूख नहीं है। इसके बाद पिता कमलेश ंिसंह ने अपनी बेटी को स्कूली बस में बैठा दिया। इस सन्दर्भ में जब ड्राइवर अनील से बातचीत की गयी तो उसने बताया कि आचल ने घर से थोडी दूर ही आकर बस उतरने लगी जिसपर उसने कहा कि अंकल हम एडिमिट कार्ड भूल गये हैं। पापा के साथ लेकर स्कूल आ जायेंगे। बताया जाता है कि वहां से आचल घर न जाकर टैम्पों से आशापुर चैराहा पर आयी और आशापुर रेलवे क्रासिंग से उत्तर तरफ चार सोै मीटर की दूरी पर टेªक पर खडी हो गयी। थोडी देर बाद ही लखनऊ-छपरा एक्सप्रेस अप के आने पर कूद गयी। जिससे उसकी घटना स्थल पर मौत हो गयी। इस बीच कुछ लोंगो ने उसे रोकने की कोशिश की लेकिन उसे बचा नहीं सके। उसका स्कूली बैग करीब आठ सौ मीटर हवेलिया रेलवे क्रासिंग के समीप मिला। जिसपर बैग में मिले आईकार्ड से उसके पिता को फोन किया गया।

Share

Related posts

Share