Breaking News

इलाहाबाद : यूको बैंक में तीन नकाबपोशों ने 16 लॉकर तोड़कर लगभग एक करोड़ के ज्वेलरी पर हाथ साफ

uco

फाइल फोटो
-तीन दिन बाद आज बैंक खुलने पर हुए खुलासा
-तीन नकाबपोशों ने दिया 29 अप्रैल को घटना को अंजाम
इलाहाबाद। एक तरफ काउंटर पर काउंटर वहीं दूसरी ओर अपराध का ग्राफ का बढने से सरकार की नींद उडा दी है। अब चोरांें ने इलाहाबाद में सनसनीखेज घटना को अंजाम दिया है। शहर के यूको बैंक में घुसकर चोरों ने एक नहीं बरन् 16 लॉकरों का ताला तोड़कर उसमें रखे गहने व दूसरे कीमती सामान उठा ले गये। इस दौरान बदमाशों ने बैंक के करेंसी चेस्ट को भी गैस कटर से काटने की कोशिश की, लेकिन कैश बॉक्स तोड़ पाने में वह नाकाम रहे। अभी तक चोरी गये ज्वेलरी व अन्य सामान का आकलन ठीक ढंग से नहीं हुआ है लेकिन यह लगभग 1 करोड रूपये की चोरी बताया जा रही है।
गौरतलब है कि इलाहाबाद के पॉश इलाके सिविल लाइंस स्थित यूको बैंक की मुख्य शाखा है। शनिवार, रविवार व बुद्ध पूर्णिमा के चलते सोमवार को भी अवकाश होने के कारण लगातार तीन दिन बैंक बंद थे। आज सुबह जब बैंक कर्मचारी बैंक पहंुचे तो अन्दर का हालात देख कर दंग रह गये। पूरा समान बिखरा पडा था। बदमाश बैंक के खिडकी के ग्रिल तोड कर अन्दर दाखिल हुए थे। करेंसी चेस्ट यानी कैश बॉक्स को गैस कटर के जरिये काटने की कोशिश की गई थी, लेकिन चोर उसे तोड़ नहीं सके थे। कैश बॉक्स सुरक्षित देखकर कर्मचारी राहत की सांस लेते, तभी उनकी नजर लॉकर रूम पर पड़ी। लॉकर रूम के बाहर लोहे की मोटी ग्रिल को काटने के बाद सोलह लॉकरों के ताले टूटे हुए थे और उनमे रखा सारा सामान गायब था। लॉकर रूम की हालत देखकर बैंक कर्मचारियों के होश उड़ गए। फौरन पुलिस को घटना की जानकारी दी गई। पुलिस के कई बड़े अफसर खोजी कुत्ते व फारेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंचे और अपनी तफ्तीश शुरू की। सीसीटीवी से पता चला कि तीन नकाबपोश चोर 29 अप्रैल की रात करीब साढ़े ग्यारह बजे बैंक में दाखिल हुए थे।
जांच में पता चला कि चोर पीछे की दीवार में लगी खिड़की को तोड़कर अंदर दाखिल हुए और लोहे के चेनल गेट को गैस कटर की मदद से काटकर लाकर रूम व करेंसी चेस्ट तक पहुंचे। पहले कैश बॉक्स को काटने की कोशिश की गई और उसके बाद लॉकरों को निशाना बनाया गया। अंदर दाखिल होते ही सीसीटीवी और स्मॉग के कनेक्शन काट दिए गए। जिन 16 लॉकरों को तोड़ा गया, वह सभी भरे हुए थे।
बैंक में रात के वक्त कोई सिक्योरिटी गार्ड नहीं रहता था। खोजी कुत्ता बाहर गेट तक आकर रुक जा रहा था। इससे साफ है कि गैस कटर को किसी वाहन पर लादकर लाया गया था। लाकर में रखे गहनों का ब्यौरा तो ग्राहक ही दे सकते हैं, लेकिन अनुमान है कि चोर कम से कम एक करोड़ रूपये का सामान अपने साथ ले गए हैं। पुलिस जांच में जुट गयी है। इस घटना के बाद से 16 लाकर मालिकों में बैचेनी साफ दिखी। मालूम हो कि अब लाकर में रखे सामान का उनका क्या होगा। यह सब कुछ पुलिस पर निर्भर है।

Share

Related posts

Share