Breaking News

एक और बैंक का लाइसेंस आरबीआई ने किया रद्द, बैंक डिपॉजिटर्स परेशान

विजय श्रीवास्तव
-महाराष्ट्र के ‘कराड जनता सहकारी बैंक‘ का लाइसेंस रद्द
-7 दिसंबर के कामकाज के बाद से प्रभावी हो गया फैसला

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया एक और बैंक के लाइसेंस रद्द कर दिया है। अब आरबीआई ने महाराष्ट्र के कराड में संकटग्रस्त ‘कराड जनता सहकारी बैंक‘ का लाइसेंस रद्द कर दिया है। आरबीआई ने यह फैसला पर्याप्त पूंजी नहीं होने और बैंक की आमदनी से जुड़ी भविष्य की कमजोर संभावनाओं को देखते हुए लिया है। वैसे नवंबर 2017 से ही कराड जनता सहकारी बैंक पर रिजर्व बैंक ने कुछ पाबंदियां लगाई हुई थीं लेकिन अब आरबीआई ने कहा है कि लाइसेंस रद्द होने के बाद अब बैंक पूरी तरह से बंद हो जाएगा।
आरबीआई के मुताबिक, सेक्शन-22 के नियमों के मुताबिक बैंक के पास अब पूंजी और कमाई की कोई गुंजाइश नहीं है। कराड बैंक बैंकिंग रेगुलेशन, 1949 के सेक्शन-56 के पैमानों पर खरा नहीं उतरा। अब बैंक को चालू रखना जमाकर्ताओं के हित में नहीं है। मौजूदा स्थिति में बैंक अपने डिपॉजिटर्स को पूरा पैसा नहीं दे पाएगा। इसी वजह से उसका लाइसेंस रद्द किया गया है। साथ ही केंद्रीय बैंक ने साफ कर दिया है कि लाइसेंस रद्द होने के बाद भी 99 फीसदी जमाकर्ताओं को उनकी पूंजी वापस मिल जाएगी।

Share

Related posts

Share