एसबीआई ने दी सौगात : अब मिनिमम बैलेंस 3 हजार, खाता बन्द करने पर कोई फीस नहीं

sbi

-एसबीआई में मर्ज बैंकों के चेकबुक आज से अमान्य
-मासिक चार्ज की दर में भी की गयी कमी
-खाता बंद कराने पर कोई फीस नहीं
-1 अक्टूबर यानि आज से लागू होंगे नए नियम
नई दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक के अपने खाताधारकों के लिए कई खुशखबरी लेकर आया है। एसबीआई ने अब अपने खाता धारकों के मिनिमम बैलेंश की राशि का घटा दिया है वहीं अब खाता बन्द करने के दौरान ग्राहकों को कोई अतिरिक्ति चार्ज नहीं देना होगा। एसबीआई के इस फैसले से करीब 5 करोड खाता धारकों को फायदा होगा। बैंक ने मिनिमम अकाउंट बैलेंस के नियमों में फेरबदल किया है। वैसे ये नियम आज से 1 अक्टूबर 2017 से लागू हो गयेे। इसके साथ ही वहीं बैंक ने पेंशनरों व नाबालिगों को न्यूनतम बैलेंस से छूट भी दी है।
नए नियमों के तहत बैंक ने मेट्रो शहरों में में मिनिमम अकाउंट बैलेंस की लिमिट 5 हजार रुपए से घटाकर 3 हजार कर दी है. जबकि अर्बन, सेमी-अर्बन और रुरल सेंटर्स की लिमिट में कोई बदलाव नहीं किया गया है। मेट्रो और अर्बन सेंटर्स कैटेगरी में मिनिमम बैलेंस न रखने पर लगने वाले चार्ज भी 20-50 फीसदी तक कम कर दिए गए हैं। अब मिनिमम बैलेंस नहीं रखने पर हर महीने मेट्रो शहरों में में 50 रुपए और अर्बन शहरों में 30 रुपए का चार्ज लगेगा। वहीं सेमी-अरबन और रूरल संेटर्रो पर हर महीने अब 20 से 40 रुपए के बीच चार्ज लगाया जाएगा। मौजूदा वक्त में उसके 42 करोड़ सेविंग अकाउंट होल्डर्स हैं। इनमें से प्रधानमंत्री जनधन योजना और दूसरी लाभकारी योजना पाने वाले 13 करोड़ खाताधारकों को पहले से ही छूट दी गई है। ये वो खाताधारक हैं, जिनके अकाउंट में मिनिमम बैलेंस न होने के बावजूद भी उन्हें मासिक चार्ज नहीं देना होता।
इसके साथ ही एसबीआई ने 1 अक्टूबर से ही खाता बंद कराने की फीस में भी बदलाव किया है। अगर आप अकाउंट खुलवाने के 14 दिनों से लेकर एक साल के बीच बंद करवाते हैं, तो इसमें कोई फीस नहीं वसूला जाएगा। वहीं इस अवधि के बाद खाता बंद करवाने पर पांच सौ रुपये और ग्राहकों से वसूला जाएगा। इसके साथ ही एसबीआई में मर्ज हो चुके बैंकों की चेकबुक जिनके पास है, वे इसे तुरंत बदलवा लें। 1 अक्टूबर से इन बैंकों की पुरानी चेकबुक और आईएफएस कोड 30 सितंबर के बाद अमान्य हो जाएंगे। ऐसे में ग्राहक इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, एटीएम या बैंक शाखा में जाकर नई चेकबुक के लिए आवेदन करना होगा।

Share

Leave a Reply

Share