Breaking News

कांग्रेस ने सीआरपीएफ जवान पवन के घर पहुंच किया सम्मानित, तड़तड़ाती गोलियों के बीच बचाई मासूम बच्चे की जान

विजय श्रीवास्तव
– चौबेपुर  में गोलधमकवा गांव में जश्न का माहौल
-पिता, माॅ व पत्नि को है अपने पवन पर नाज

वाराणसी। कश्मीर के सोपोर में बुधवार में आतंकी हमले के दौरान मासूम बच्चे की जान बचाने वाले सीआरपीएफ जवान पवन कुमार चौबे के गांव चौबेपुर  में गोलधमकवा गांव में जश्न का माहौल है। पूरे गांव को अपने जवान पर आज गर्व है। घर वाले अपने बेटे के बहादुरी पर फूलें नहीं शमा रहे हैं। उनके पिता व घर वालों को बधाई देने वालों का ताॅता लगा है। इसी क्रम में आज कांग्रेस के जिलाध्यक्ष राजेश्वर सिंह पटेल के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल पवन कुमार चैबे के घर पहुंच कर उन्हें अंगवस्त्र भेंटकर मिठाई खिलाकर स्वागत व बधाई दी। इस दौरान राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर किसान कांग्रेस रामसुधार मिश्र भी थे।

गौरतलब है कि बुधवार को कश्मीर के सोपोर में आतंकी हमले के दौरान एक मासूम बच्चे आ गया। इसी दौरान भगवान बन कर उसकी जान बचाने वाले सीआरपीएफ के जवान पवन कुमार चैबे चट्टान बन कर आ गये। अपने जान की परवाह न करते हुए तड़तड़ाती गोलियों के बीच गोदी मंे रेगते हुए किसी तरह से मासूम बच्चे की जान बचाई। आज अपने बेटे के बहादुरी पर पूरे गांव का नाज हैं। अपने बेटे की बहादूरी सुन कर पिता सुभाष चौबे ने कहा कि बेटा देश सेवा के लिए गया और वह करके आज दिखा दिया। प्रशंसा सुन रहा हूं तो सीना गर्व से चैड़ा हो गया है। पेशे से किसान पिता कहते हैं कि किसानी करके बच्चों को पढ़ाया हूं। मां सुशीला देवी को दोपहर में टीवी के जरिए बेटे की वीरता के बारे में जानकारी मिली। कहा कि देखकर बहुत ही अच्छा लगा है। बेटे ने न केवल देश का बल्कि घर, परिवार और गांव का नाम रोशन किया है। कहा कि मां भगौती (भगवती) से कामना करती हूं कि वह स्वस्थ रहे। शुभांगी चौबे कहती है कि मुझे अपने पति पर उनपर काफी गर्व है। पवन को आठ साल का बेटा और पांच साल की बेटी है।


कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल में जिलाध्यक्ष राजेश्वर सिंह पटेल, राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर किसान कांग्रेस रामसुधार मिश्र, अशोक कुमार सिंह, दिलीप चैबे, मनीष सिंह, राकेश चन्द्र शर्मा,तुसार श्रीवास्तव, राजाराम यादव आदि लोगो ने पवन कुमार चौबे के घर पहुंच कर पिता सुभाष चैबे को अंगवस्त्र भेंटकर मिठाई खिलाकर स्वागत किया।

Share

Related posts

Share