Breaking News

कुशीनगर : फार्मासिस्ट ने पत्नी व दो बच्चों की चाकू गोद कर की हत्या, एक बच्ची की हालत गंभीर, बाद में की आत्महत्या

kushi

सिकन्दर कुशवाहा
-कोर्ट में 2013 से चल रहा था विवाद
-पति-पत्नी रह रहे थे अलग-अलग
कुशीनगर। परिवार स्वर्ग का एक दूसरा रूप है। जहां व्यक्ति को शान्ति, सुकुन व सब कुछ मिलता है लेकिन वहीं जब परिवार में विचारों का तालमेल नहीं बैठता है तो परिवार में सब कुछ समाप्त हो जाता है। कुछ ऐसा ही बीति रात लगभग 2 बजे कुशाीनगर में एक परिवार में देखने को मिला जब घरेलू विवाद के चलते पति ने अपनी पत्नी व दो बच्चों की हत्या के बाद एक फार्मासिस्ट ने अपनी भी जान दे दी। एक लडकी को छोड़कर परिवार के सभी सदस्यों की मौत हो गई है। गंभीर रूप से घायल लडकी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
पत्नी व बच्चों पर चाकू से हमला करने के बाद फार्मासिस्ट ने जहर खा लिया।

ssv 1

प्राप्त जानकारी के अनुसार पडरौना के बावली चैक में फर्मासिस्ट माधव मुरारी सिंह अपनी पत्नी सुमन सिंह (42 वर्ष), पुत्री माधवी (11) पुत्र विक्रम सिंह (8) व मन्नू सिंह (4) के साथ के साथ रहते थे। बताया जाता है कि बताया जाता है कि पति-पत्नी के बीच वर्ष 2013 से विवाद चल रहा था। कोर्ट में वाद भी लंबित भी है। पत्नी सुमन बच्चों के साथ पति के मकान में ही अलग रह रही थीं।

AASSHHOOKK 2

बताया जाता है कि रात में किसी बात को लेकर पति-पत्नी में जोरदार विवाद हुआ। उसके बाद दोंनो सोने चले गये। जानकारी के मुताबिक देर रात करीब दो बजे माधव मुरारी ने गहरी नींद में सो रही पत्नी सुमन सिंह, पुत्री माधवी, पुत्र विक्रम सिंह व मन्नू सिंह पर चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। अचानक हुए हमले से सदस्यों को भागने का मौका भी नहीं मिला। सभी गंभीर रूप से घायल होकर छटपटाने लगे। इसी बीच माधव मुरारी ने भी जहर खा लिया। पत्नी तथा दो पुत्रों के साथ माधव मुरारी की मौत हो गई जबकि बेटी बेहद गंभीर है। सुबह जब लोंगो को जानकारी हुई तो लोंगो ने पुलिस को खबर दी और गंभीर रूप से घायल माधवी सिंह को जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

smriti iti

सूचना पर सदर कोतवाली पुलिस के साथ ही एसपी अशोक कुमार पाण्डेय ने घटना स्थल पर पहुंच जांच-पड़ताल कर जांच का आदेश दिया। इस दौरान फोरेंसिक टीम मौके पर गहनता से जांच-पड़ताल कर रही है।

 

Share

Related posts

Share