क्या आप विद्युत सम्बन्धी समस्याओं से परेशान हैं तो टोलफ्री नम्बर 1912 पर करें शिकायत दर्ज

1912-toll-free
विजय श्रीवास्तव
-पूरे देश में इस नम्बर पर दर्ज होती है विद्युत सम्बन्धी शिकायत
-पूर्वांचल विद्युत निगम में प्रतिदिन दर्ज होती है 7-8 हजार शिकायतें
-21 जनपदों की समस्याओं का होता है निस्तारण
-तीन शिफ्टों में 180 लोग करते है कन्ट्रोल रूम में काम
वाराणसी। पूर्वांचल विद्युत विभाग अपने उपभोक्ताओं को विद्युत सम्बन्धी समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए 1912 नम्बर जारी कर रखा है। वैसे यह नम्बर पूरे देश में काम करता है। इस नम्बर पर दर्ज की गयी शिकायतों पर जिला स्तर से लेकर प्रदेश व केन्द्र में उर्जा मंत्रालय तक नजर रखता है। इसकी बकायदा प्रतिदिन मानटिरिंग होती है। केवल वाराणसी में स्थित पूर्वांचल विद्युत निगम के अधीन 21 जनपदों के 7 से 8 हजार उपभोक्ताओं के विद्युत सम्बन्धी समस्याओं के निस्तारण प्रतिदिन किया जाता है। इसके लिए बकायदा 60-60 स्टाफ तीन शिफ्टों में काम करते हैं।
इस सन्दर्भ में पूर्वांचल विद्युत निगम के प्रबन्ध निदेशक के अधीकृत प्रवक्ता राकेश सिन्हा ने बताया कि विभाग अपने उपभोक्ताओं को विद्युत सप्लाई, ट्रांसफार्मर, बिल, मीटर आदि सम्बन्धी समस्याओं के निस्तारण के दृष्टिगत अप्रैल 2017 से ट्रोल फ्री नम्बर 1912 जारी किया है। इसके तहत इस नम्बर पर उपभोक्ता सीधे अपने शिकायत दर्ज करा सकता है। कम्पलेन दर्ज कराते समय अपना कम्पलेन नम्बर अवश्य लें और उसे थोडी-थोडी देर में अपडेट करते रहें। इस नम्बर पर शिकायत दर्ज होते ही कन्ट्रोल रूम से इसकी सूचना सम्बन्धी फीडर के अधिशासी अभियन्ता को भेज दी जाती है। जिसपर अधिशासी अभियन्ता शिकायत को अपने एसडीओ व जेई फारर्वड करता है और इस तरह से उसकी समस्या दूर की जाती है। श्री सिन्हा ने बताया कि शहरी क्षेत्र में ट्रांसफार्मर के जलने की स्थिति में 24 घंटे व ग्रामीण क्षेत्रों में 48 घंटे लगते हैं। भारत में यह ट्रोल फ्री नम्बर केन्द्र के उर्जा मंत्रालय द्वारा संचालित किया जाता है। जिससे केन्द्रीय स्तर पर प्रतिदिन मंत्रालय स्तर पर इसकी देखरेख होती है। यह सुविधा 24 घंटे काम करती है। अगर इस नम्बर पर काल न हो तो मोबाइल नम्बर 9450560000 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हेैं।

Share

Leave a Reply

Share