Breaking News

गोरखपुर: बीआरडी कॉलेज में ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी का मालिक गिरफ्तार

manish

-पुष्पा सेल्स का मालिक मनीष भंडारी करता था सप्लाई
-सभी नौ आरोपी गिरफ्तार
गोरखपुर। आखिरकार पुलिस ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हुए ऑक्सीजन कांड मामले में नौवें आरोपी पुष्पा सेल्स के मालिक मनीष भंडारी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गोरखपुर में देवरिया बाइपास के पास से मनीष भंडारी को कैंट सीओ ने रविवार सुबह गिरफ्तार किया। मनीष केस दर्ज होने के बाद से फरार चल रहा था।
गौरतलब है कि विगत अगस्त माह में बीआरडी कॉलेज में आक्सीजन की कमी से 10 और 11 अगस्त की रात हुए 60 से अधिक मौत हुई थी। जिससे पूरे देश में इसके प्रति गुस्सा व रोष था। विपक्षी पार्टियों ने भी इस मुद्दे पर आक्रामक रवेेया अपना रखा था। जिसपर सरकार ने भी कडा रूख अपनाते हुए सख्त कार्यवाही करने का आदेश दिया था। इस मामले में गोरखपुर के जिलाधिकारी को जांच सौंपी गई थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुख्य सचिव की अध्यक्षता में जांच समिति गठित कर एक हफ्ते में रिपोर्ट मांगी थी। इसके बाद 23 अगस्त को नौ लोगों के खिलाफ केस दर्ज हुआ था। जिसके तहत अभी तक पुलिस ने आठ गिरफतारी कर चुकी थी। रविवार का लखनऊ निवासी मनीष भंडारी जो बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी पुष्पा सेल्स का मालिक है को पकड लिया। मनीष गोरखपुर से निकल कर बिहार जाने की फिराक में था। पुलिस ने रविवार सुबह मुखबिर की सूचना पर देवरिया बाइपास के पास से उसे गिरफ्तार कर लिया. उससे पूछताछ की जा रही है। उस पर आरोप है कि बीआरडी मेडिकल कालेज को ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली उसकी कंपनी पुष्पा सेल्स ने लिक्विड ऑक्सीजन की आपूर्ति के दायित्व को पूरा नहीं किया।
मालूम हो कि अभी तक तत्कालीन प्राचार्य डा. राजीव मिश्र, उनकी पत्नी डा. पूर्णिमा शुक्ला, वार्ड 100 के एनएचएम के नोडल अधिकारी डा. कफील खान, लिपिक सुधीर पांडेय, एनेस्थिसिया के विभागाध्यक्ष डा. सतीश कुमार, लेखाकार संजय त्रिपाठी, गजानन जायसवाल, उदय शर्मा और मनीष भंडारी शामिल हैं अब सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं।

Share

Related posts

Share