Breaking News

जौनपुर : पुलिस व पीएसी के बीच कलेक्ट्रेट में सपा का जोरदार प्रदर्शन

सूर्यनारायण यादव
-कृषि कानून के विरोध में आंदोलित किसानों के समर्थन में उतरी सपा
-विधायक सहित दर्जनों सपा कार्यकर्ताओं को लिया हिरासत में

जौनपुर। कृषि कानून का विरोध थमता नजर नहीं आ रहा है। समाजवादी पार्टी पूरी तरह से आंदोलित किसानों के समर्थन में उतर चुकी है। सोमवार को पूर्व कार्यक्रम के तहत सपा ने जोरदार प्रदर्शन किया। सपा के विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर कचहरी परिसर व उसके आसपास भारी पुलिस व पीएसी के जवानों की तैनाती की गई थी लेकिन इसके बावजूद सपा कार्यकर्ता सारी व्यवस्थाओं को धता बताकर धक्का-मुक्की के बीच न केवल कचहरी में घुस गए, और धरने पर भी बैठ गए इस दौरान पुलिस से जमकर नोकझोंक भी हुई। इस दौरान मोर्चा संभाले पुलिस अधीक्षक राज करन नय्यर व मछलीशहर विधायक जगदीश सोनकर के बीच नोकझोंक व धक्का-मुक्की का आलम रहा कि दोनों लड़खड़ाते हुए गिरते-गिरते बचे। सपा ने कहा कि यहां पुलिस ने उनके करीब पांच दर्जन कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर बसों में बैठा लिया।


इसके पहले पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सपाजन मियांपुर मोहल्ले के एक लान में जुटकर धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष लाल बहादुर यादव ने केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए नए कृषि कानून को किसान विरोधी बताते हुए इसे वापस लेने की मांग की। वक्ताओं ने भाजपा सरकार को किसान विरोधी बताते हुए तीखे हमले किए। लगभग दो घंटे तक चले धरने के बाद कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट परिसर के लिए चल दिए। इसी दौरान वहां मौजूद पुलिस ने उन्हें रोका जहां जमकर पुलिस से नोंकझोक भी हुई। सपाइयों को सभांलने में पुलिस व पीएसी को कडी मसक्कत करनी पडी।


सपा ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उनके करीब पांच दर्जन कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर बसों में बैठा लिया। आरोप है कि जिलाध्यक्ष लालबहादुर यादव, विधायक शैलेंद्र यादव ललई, विधायक लकी यादव, लल्लन यादव, श्रद्धा यादव, अवधनाथ पाल, यशवंता यादव, पूनम मौर्य आदि के साथ दर्जनों सपाईयों को हिरासत में ले लिया गया।

Share

Related posts

Share