Breaking News

दिल्ली में एक सप्ताह ओैर राजस्थान में आज से 15 दिन का लॉकडाउन

विजय श्रीवास्तव
-आज सोमवार रात 10 बजे से लेकर आगामी 26 अप्रैल के सुबह तक दिल्ली में पूर्ण कर्फ्यू
-मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान किया एलान
-राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत सरकार ने कोरोना को देखते हुए लिया फैसला
-आगे भी बढ़ाया जा सकता है पूर्ण कर्फ्यू

नई दिल्ली। बेकाबू हो गये कोरोना वायरस संक्रमण के चलते दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने एक सप्ताह के सम्पूर्ण लाकॅडाउन की घोषणा की है। जिसके तहत सोमवार रात 10 बजे से लेकर आगामी 26 अप्रैल तक दिल्ली में पूर्ण कर्फ्यू लगाया जा रहा है। आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान इसका एलान किया है। राजस्थान में भी कोविड -19 के मामलों में तेजी से हो रही वृद्धि के मद्देनजर, राज्य सरकार ने सोमवार से 15 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है और यह 3 मई तक लागू रहेगा।


गौरतलब है कि सोमवार सुबह उपराज्यपाल अनिल बैजल संग बैठक करने के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में आगामी 26 अप्रैल तक पूर्ण कर्फ्यू लगाने का एलान किया गया। इसके तहत आगामी 26 अप्रैल तक सामान्य गतिविधियां ठप रहेंगी, लेकिन जरूरी सेवाओं को छूट दी गई है। जानकारी के मुताबिक अगर कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी नहीं आई तो 26 अप्रैल तक लागू पूर्ण कर्फ्यू को आगे भी बढ़ाया जा सकता है।
जानकारी के मुताबिक 26 अप्रैल तक दिल्ली में लगने वाले लॉकडाउन के दौरान निजी दफ्तरों को वर्क फ्रॉम ही करना होगा। सरकारी दफ्तरों में आधे ही जा सकेंगे। अस्पताल जानेवाले, मेडिकल स्टोर जाने वाले, वैक्सीन लगवाने जाने वाले लोंगो को लाॅकडाउन में छूट मिलेगी। इसके साथ ही रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट, बस स्टेशन जाने वाले लोंगो को भी छूट मिलेगी। मेट्रो, बस सर्विस चालू रहेगी लेकिन 50 प्रतिशत यात्रियों को ही इजाजत मिलेगी। दिल्ली में बैंक, एटीएम, पेट्रोल पंप खुले रहेंगे। इसके साथ ही मेडिकल इमरजेंसी को भी छूट हासिल होगी।


राजस्थान में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के बीच अशोक गहलोत सरकार ने रविवार देर रात नई गाइडलाइन जारी की । इसके तहत सोमवार से 3 मई तक जन अनुशासन पखवाड़ा होगा । इसमें सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान और बाजार बंद रहेंगे । शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक जिस तरह से रात्रि कर्फ्यू लगाया गया था । उसे अब जन अनुशासन पखवाड़े का नाम दिया गया है, जबकि स्थिति कर्फ्यू जैसी ही रहेगी । प्रदेश की सीमा पर सख्ती की जाएगी । बाहर से आने वालों को 72 घंटे भीतर की आरटीपीसीआर रिपोर्ट दिखाने के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा।

Share

Related posts

Share