Breaking News

प्रयागराज: 69000 शिक्षक भर्ती में धांधली का खुलासा करने वाले एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध का तबादला, साथ ही आज आई रिपोर्ट में निकले कोरोना पाॅजिटिव

विजय श्रीवास्तव
-समाजवादी पार्टी के साथ कांग्रेस ने बताया बदले की कार्रवाई
-प्रयागराज में छात्र तबादले के विरोध में सड़कों पर उतरें
-आईपीएस अभिषेक दीक्षित प्रयागराज के नए एसएसपी बनाए गए
-एसएसपी का गनर निकला था पॉजिटिव, संपर्क में आने के कारण सत्यार्थ अनिरुद्ध भी संक्रमित
-प्रतियोगी छात्रों का आरोप- नकल माफिया के खिलाफ कार्रवाई करने पर लिया गया ऐक्शन

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश में 69000 शिक्षक भर्ती के मामले में कथित धांधलियों को उजागर करने वाले प्रयागराज के एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज को हटा कर उन्हें प्रतीक्षारत सूची में डाल दिया गया है। उनके स्थान पर आईपीएस अभिषेक दीक्षित को प्रयागराज का नया एसएसपी बनाया गया है। सरकार के इस फैसले पर प्रतियोगी छात्रों सहित अन्य विपक्षी पार्टियों ने आड़े हाथों लिया है। वहीं दूसरी ओर आज प्रयागराज के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) रहे सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आ गयी है जिससे उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है।


गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में 69000 शिक्षक भर्ती में कथित धांधली को लेकर सरकार बैक फुट पर है वेैसे कोर्ट ने कुछ राहत अवश्य दे दिया है लेकिन सोमवार की रात को शिक्षक भर्ती की कथित धांधलियों का उजागर करने वाले एसएसपी सत्यार्थ अनिरूद्ध को प्रतिक्षा सूची में डालने पर इसकी जोरदार प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। प्रतियोगी छात्रों का कहना है कि शिक्षक भर्ती के मामले में तमाम एफआईआर कराने और नकल माफिया के खिलाफ कार्रवाई करने पर एसएसपी के सजा के तौर पर वेटिंग लिस्ट पर भेजा गया है। प्रदेश में विपक्षी दल समाजवादी पार्टी के साथ कांग्रेस के नेता इसको बदले की कार्रवाई बता रहे हैं, जबकि प्रयागराज में छात्र इस तबादले के विरोध में सड़कों पर उतरे हैं। वैसे इस मामले की जांच अब स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) कर रही है.
कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी इनके तबादले को लेकर ट्वीट किया है। प्रियंका ने लिखा कि ‘‘प्रयागराज के एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध का ट्वीट देख कर आश्चर्य हुआ। जिस समय उन्होंने इतने बड़े घोटाले का खुलासा किया है, उनके जाने से जांच का नुकसान न हो। वजह जो भी है, ऐसे अफसरों को पब्लिक का पूरा समर्थन मिलना चाहिए जो ईमानदारी से, निर्भय होकर अपना कर्तव्य निभाते हैं।‘‘


पूर्व एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज को जहां सोमवार की रात को प्रतिक्षा सूची में डाल दिया गया वहीं सुबह उन्हें एक और अशुभ खबर देखने को मिली जब उनके गनर में कोरोना की पुष्टि होने के बाद एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध को एसआरएन के सस्पेक्ट वार्ड में भर्ती कराया गया था और उनका सैंपल किया गया था। आज सुबह एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई है। अब उन्हें दूसरे वार्ड में शिफ्ट किया जा रहा है।


मूल रूप से बिहार के रोहतास जिले के रहने वाले सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज 2010 बैच के आईपीएस अफसर हैं। पिछले साल अगस्त में सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज को प्रयागराज का एसएसपी बनाया गया था। इससे पहले सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज एसटीएफ लखनऊ में तैनात थे।

Share

Related posts

Share