बिजली विभाग के अधिशासी अभियन्ता(गोरखपुर) निलम्बित

ssss
-ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर एमडी ने की कार्रवाही
-14 जून को गोरखपुर में सीएम योगी के दौरे के समय रात में रही विद्युत की कटौती    
वाराणसी। ंयूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गोरखपुर दौरे के समय 14 जून को कई उपकेन्द्रों में पूरे रात विद्युत आपूर्ति ठप रहने की सजा आखिरकार नगरीय विद्युत वितरण खण्ड-द्वितीय के अधिशासी अभियन्ता(गोरखपुर) को भुगतनी पड़ी। लापरवाही पूर्ण कार्यप्रणाली एवं कार्य मे शिथिलता के चलते सुरेश चन्द्र भारती, प्रबन्ध निदेशक, पूर्वान्चल विद्युत वितरण निगम ने रमेश चन्द्र पाण्डेय, अधिशासी अभियन्ता, नगरीय विद्युत वितरण खण्ड-द्वितीय,गोरखपुर को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर मुख्य अभियन्ता(वितरण), आजमगढ़ क्षेत्र, आजमगढ़ से सम्बद्व कर दिया गया।
इसके साथ ही रमेश चन्द्र पाण्डेय पर आरोप है कि गोरखपुर महानगर में पिछले 15 दिनों में तीन बार आयी तेज आंधी तूफान में बाधित विद्युत आपूर्ति को बहाल करने में आवश्यकता से अधिक समय लगाना जिसके कारण शासन के मंशा के अनुरूप निर्धारित शिड्यूल के अनुसार विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित नहीं की जा सकी है। इन कारणों से नगरीय विद्युत वितरण खण्ड-द्वितीय, गोरखपुर के साथ-साथ (पूर्वान्चल) डिस्काम, पूर्वान्चल की छवि धूमिल हुई है। इसके अतिरिक्त खण्ड का राजस्व वसूली मे असंतोषजनक प्रर्दशन, विद्युत बिलो के संशोधन मे गड़बड़ी के शिकायत के जाॅच हेतु डिस्काम मुख्यालय द्वारा गठित कमेटी को अधिशासी अभियन्ता द्वारा सहयोग न प्रदान करना आदि शिकायते प्राप्त हुई है।
प्रबन्ध निदेशक के अधिकृत प्रवक्ता राकेश सिन्हाने बताया कि प्रकरण की गम्भीरता को देखते हुए धीरज सिन्हा, अधिशासी अभियन्ता, विद्युत वितरण खण्ड-प्रथम, आजमगढ़ को तत्काल प्रभाव से नगरीय विद्युत वितरण खण्ड-द्वितीय,गोरखपुर के अधिशासी अभियन्ता पद पर तैनात किया गया।

Share

Leave a Reply

Share