ब्रह्माकुमारी संस्था ने किया श्रद्धा सिंह को सम्मानित

sragha-1

-आस्कर की दौड़ में शामिल श्रद्धा सिंह
वाराणसी। आस्कर के दौड़ में शामिल कुमारी श्रद्धा सिंह का ब्रह्माकुमारी संस्था अभिनन्दन किया गया। सम्मान से अभिभूत हुई श्रद्धा सिंह ने संस्था के भाई-बहनों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि आप लोंगो के आशीर्वाद से आज मैं इस मुकाम पर पहुंच सकी। ब्रह्माकुमारी संस्था के क्षेत्रीय कार्यालय ग्लोबल लाइट हाउस के सभागार में आयोजित एक समारोह में संस्था की क्षेत्रीय निदेशिका राजयोगिनी बी के सुरेन्द्र दीदी, प्रबंधक राजयोगी बी के दीपेन्द्र, मीडिया प्रभारी बी के विपिन आदि ने श्रद्धा सिंह को शाल, बुके, और माला आदि पहनाकर सम्मानित किया। उक्त अवसर पर सुरेन्द्र दीदी ने कहा की कुमारी श्रद्धा ने बहुत कम समय में जो उपलब्धि हासिल की है, इससे सभी बेटियों को शिक्षा लेनी चाहिए, इनके कार्य से न केवल काशी अपितु पुरे देश का सम्मान बढ़ा है, दीदी ने नारी की गौरव और गरिमा को ऊँचा उठाने के लिए दीदी श्रद्धा सिंह को हार्दिक बधाई देते हुए निरंतर सफलता की ओर आगे बढ़ने के लिए अपनी शुभ कामनाएं दी।

sragha-2

राजयोगी बी के दीपेन्द्र ने कहा की आज से करीब ४ साल पहले मुंबई जाकर अपनी सफलता की कहानी लिखने वाली श्रद्धा का सम्मान करते हुए हमें बहुत खुशी हो रही है, ऐसी बेटियां ही आज के पुरुष प्रधान मानसिकता और कन्या भ्रूण हत्या जैसी अपराध करने वाले लोगों के लिए नारी शक्ति की सशक्त उदहारण हैं, निश्चित ही श्रद्धा के पद चिन्हों पर चलकर अनेक नारियां, बेटियां देश और समाज के लिए उदाहरण बनेंगी। बी के विपिन ने अपनी शुभ कामना देते हुए कहा की एह केवल श्रद्धा का सम्मान नहीं बल्कि देश की हर बेटियों और नारियों का सम्मान है। जो अपने अडिग इरादे और लक्ष्य के साथ आगे बढ़ना चाहती हैं, उन्हें सफलता की नई कहानी लिखने से कोई नहीं रोक सकता।
श्रद्धा के पिता सुरेन्द्र कुमार सिंह ने संस्था के प्रति अपनी हार्दिक कृतज्ञता व्यक्त किया, अपने सम्मान से अभिभूत कुमारी श्रद्धा ने इस सफलता के पीछे अपनी माँ और पिता के अमूल्य योगदान के साथ बचपन में ही संस्था के द्वारा प्राप्त सकारात्मक और ऊँची प्रेरणाओं का होना बताया, कार्यक्रम का संचालन बी के तापोशी बहन ने किया, उक्त अवसर पर बी के रेखा, निशा, प्रभा, सरिता, डॉ दिनेश, एन के उपाध्याय, राजकुमार आदि के साथ संस्था के अनेक सदस्यों की उपस्थित रहे।

Share

Leave a Reply

Share