Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज: मोदी के गढ़ में योगी का तेवर फेल, एक दिन में तीन छिनैती

police
 -चेतगंज, सारनाथ और लंका में हुई दिनदहाड़े घटना
-सारनाथ में 1.5 लाख की तो चेतगंज में 1 लाख की
-लंका में फार्रचूनर में बैठी महिला का बेवकूफ बना कर 2.50 लाख ले उड़े बदमाश
वाराणसी। योगी आदित्यनाथ का अपराधमुक्त प्रदेश का दावा कम से कम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में तो पूरी तरह से फेल हो चुका है। अपराध का आलम यह है कि अब बैखोफ चोरांे व बदमाशों को रात का भी इंतेजार नहीं करना पड़ता है। अब वे बिना किसी डर भय के दिनदहाड़े घटनाओं को अंजाम देकर हथियार लहराते हुए निकल जाते है। आज सारनाथ, चेतंगज व लंका में दिनदहाड़े हुए लूट और टप्पेबाजी की घटना से तो यही लगता है। इससे जहां अपराधियों के हौसले पूरी तरह से बुलंद है वहीं नागरिकों में भय व्याप्त हैं।
पहली घटना सारनाथ थाना क्षेत्र के आशापुर में भारतीय स्टेट बैंक के समीप हुई। जब बिजली विभाग के ठेकेदार लल्लन सिंह आशापुर चैराहे पर स्थित भारतीय स्टेट बैंक की शाखा से डेढ़ लाख रुपये नगदी निकाल कर घर लौट रहे थे। बैंक से निकल कर आगे बढ़े ही थे कि स्कूटी सवार दो बदमाश ने उनका रूपयो से भरा बैग छिन लिया। जैसे ही घटना की जानकारी कंट्रोल रुम को हुई महकमे में हड़कंप मच गया। गौरतलब है कि घटना स्थल से मात्र 200 मीटर की दूरी पर आशापुर की पुलिस चैकी भी है। घटना के बाद पुलिस आसपास के लोंगो व घरों पर लगे कैमरों से बदमाशों को चिन्हित करने में लगी है।
इसी तरह से दूसरी घटना चेतगंज थाना क्षेत्र के लहुराबीर में हुयी। यहां जैतपुरा के साड़ी डिजाइन के कारोबारी अब्दुल रहीम के कर्मचारी अरशद से बाइक सवार लूटेरों ने एक लाख रूपया लूट लिया।  जब वह एचडीएफसी बैंक से एक लाख रुपया निकाल कर लौट रहा था। सुचना के बाद पहुंची पुलिस भुक्तभोगी से व आसपास के लेांगो से पूछताछ कर रही है।
जबकि तीसरी घटना लंका थाना क्षेत्र में हुयी। जहां मऊ जिले के राजेश सिंह की पत्नी पुष्पा सिंह अपने भाई के बच्चों के साथ वाराणसी आए हुए थे। आज उनकी बच्ची का जन्मदिन होने के कारण पुष्पा सिंह उसके हाथ से दिव्यांग बच्चों में कॉपी-किताब भेंट कराना चाहती थी जिसके लिए बच्चे के साथ ड्राइवर कापी किताब के दुकान पर स्टेशनरी और किताबों की खरीददारी करने चले गये। उधर फार्चुनर कार में पुष्पा सिंह अकेले बैठी थी। इसी बीच उनके पास एक किशोर पहुंचा और कार का दरवाजा खटखटाकर बताया कि गाड़ी के नीचे उनका रूपया गिरा है। इस पर जैसे ही पुष्पा गाड़ी से उतर कर कार के नीचे देखने लगी मौका पाकर उचक्को ने कार की सीट पर रखा 2.50 लाख रूपयों से भरा बैग उड़ा दिया। जब पुष्पा को इसका पता चला तो उन्होने शोर मचाया तब तक उचक्के भाग निकले। शोर सुनकर ड्राइवर और बच्चे भी वहां पहुंचे तो पुष्पा ने उन्हें पुरी बात बतायी। तब तक वहां राहगीरो की भीड़ भी जुट गयी। पुष्पा सिंह की सूचना पर मौके पर लंका पुलिस पहुंचकर छानबीन में जुट गयी।
लगातार तीन घटनाओं से वाराणसी पुलिस की नींद उड़ गयी है। अभी चैक सर्राफा डकैती कांड का पूरी तरह से पर्दाफाश भी नहीं हो पाया था कि बदमाशों ने काशी की पुलिस को एक साथ तीन और दंश दे दिया।

Share

Related posts

Share