भारत-अमेरिका दोस्ती से बौखलाया चीन, बुलडोजर से तोड़े भारतीय बंकर

china
 -सिक्किम-चीन बार्डर पर तनाव की स्थिति 
-आज सिक्किम जाएंगे आर्मी चीफ बिपिन रावत
-मानसरोवर यात्रा को भी चीन ने रोका
नई दिल्ली। अमेरिका व भारत की बढ़ रही दोस्ती से जहां पाकिस्तान परेशान हैं वहीं अब चीन भी पूरी तरह से बौखला गया है। विगत एक हप्ते से सिक्किम में चीन सीमा रेखा में घुसने का प्रयास के दौरान भारतीय सेैनिकों के साथ धक्का-मुक्की तक किया। इतना ही नहीं कैलाश मानसरोवर की यात्रा का भी चीन ने रोक लगा दी है। एक बार फिर उकसाने वाली कार्रवाही के तहत चीन ने बुलडोजर से भारतीय बंकर को तोड़ दिया है। जिससे तनाव की स्थिति बनी हुई है। जिसको देखते हुए आज गुरूवार को आर्मी चीफ बिपिन रावत सिक्किम के दौरे पर जा कर वहां का हालात देखेंगे।  
गौरतलब है कि कैलाश मानसरोवर की यात्रा चीन ने रोक कर तीर्थयात्रियों को बॉर्डर से वापस लौटा दिया है। जिससे जहां तीर्थयात्रियों में काफी रोष व्याप्त है वहीं बार्डर पर तनाव का माहौल है। लगातार बॉर्डर पर तनाव के बहाने चीन पिछले एक हप्ते से भारत को उकसा रहा है। जिसकों देखते हुए आज सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत सिक्किम बॉर्डर पर फॉरवर्ड पोस्ट पर जाएंगे और सीनियर कमांडर्स के साथ सुरक्षा के हालात की समीक्षा करेंगे। बुधवार को चीन की दबगई की एक बार खबर आयी जिसके तहत चीन ने भारत और भूटान के साथ लगी अपनी सीमा पर स्थित भारतीय सेना के एक पुराने बंकर को बुलडोजर का इस्तेमाल करते हुए हटा दिया। खबरों के अनुसार चीन ने उस वक्त बुलडोजर जैसी भारी मशीनरी का इस्तेमाल करते हुए पुराने बंकर को जबरन हटाया, जब भारत इसे हटाने के चीन के आग्रह पर तैयार नहीं हुआ। मालूम हो कि भारत-चीन के बीच जम्मू-कश्मीर से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक 3,488 किलोमीटर की सीमा है. इसमें से 220 किलोमीटर सिक्किम में आता है।

Share

Leave a Reply

Share