Breaking News

“ममता” संगठन द्धारा किशोर-किशोरियों को ऑनलाइन रूम मीटिंग कर कोविड-19 के प्रति किया गया जागरूक

विजय श्रीवास्तव
-कार्यक्रम का संचालन लखनऊ स्टेट आफिस से किया गया
-एसओएस विलेज स्कूल चोबेपुर की 49 किशोर-किशोरियों तथा शहर के 35 किशोर समूह को किया गया जागरूक
वाराणसी। बाल विवाह एक सामाजिक बुराई है जिसके दृष्टिगत ‘ममता‘ संस्था द्वारा उत्तर प्रदेश के 10 जिलों में किशोर-किशोरी सशक्तिकरण के माध्यम से बाल विवाह की रोकथाम नामक परियोजना को चलाया जा रहा है। इसी योजना के अंतर्गत इस समय कोविड-19 वैश्विक महामारी के प्रकोप से सारा जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। इसी कडी में वाराणसी में आज किशोर-किशोरियों को आनॅलाइन कोविड-19 के प्रति जागरूकता के लिए ममता स्टेट टीम की तरफ कार्यक्रम चलाया गया।


किशोर-किशोरियों के लिए आनॅलाइन कार्यक्रम का संचालन ममता के लखनऊ स्टेट आफिस से किया गया। जिसके तहत एसओएस विलेज स्कूल चोबेपुर की 49 किशोर-किशोरियों तथा वाराणसी शहर 35 किशोर समूह के साथ आनॅलाइन कोविड 19 के बारें में विस्तार से बताया गया। इस दौरान स्टेट प्रोग्राम मैनेजर मिर्जा अहमद रजा द्वारा कोविड-19 क्या है, यह कैसे फैलता है, इसके बचाव में क्या क्या सावधानी रखनी है, सोशल डिस्टेंस रिंग के बारे में जानकारी दी गयी साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति भ्रम की स्थिति को दूर करते हुए यह भी बताया गया कि जहां पर कोविड-19 का प्रकोप हो उससे दूरी बना लेना। उन्होंने प्रतिभागियों को वीडियों कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से बताया कि कोविड-19 में मुख्य रूप से इन चार बातों को ध्यान में रखकर आगे की जिंदगी कोविड-19 के साथ हम सभी लोगों को बितानी है, जब तक की कोई दवा नहीं बन जाती इसके लिए नियमित हाथों की सफाई 40 सेकंड तक करना तथा मुंह पर मास्क लगाना सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखना तथा सर्दी जुकाम खांसी या सांस लेने जैसी समस्याओं के लक्षण पर तुरंत सरकारी डॉक्टरों के संपर्क में जाना चाहिए। साथ ही सरकार द्वारा दिए गए फोन या हेल्पलाइन पर संपर्क के साथ ही अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउन लोड करना चाहिए। इस दौरान बाल विवाह जैसी घटनाओं के ऊपर भी जानकारी दी गयी तथा सरकार द्वारा दी गई हेल्पलाइन के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम का संचालन वाराणसी के जिला प्रबंधक श्री विनोद प्रधान द्वारा किया गया। साथ जिले के एडोलसेंट ग्रुप तथा स्वयंसेवी संगठन के सदस्यों तथा एस ओ एस विलेज के बच्चों ने ऑनलाइन ट्रेनिंग में प्रतिभाग किया। श्री प्रधान ने इस दौरान कहा कि ऑनलाइन प्रशिक्षण कराने में सभी उन साथियों का ममता परिवार की तरफ से हम लोग धन्यवाद करते हैं । इसके साथ ही मीडिया परिवार को भी धन्यवाद देना चाहते हैं कि वे इस तरह के छोटे-छोटे प्रयासों को और लोगों तक सकारात्मक जानकारी के माध्यम से फैलाते है ताकि और लोग भी इस क्षेत्र में ऑनलाइन जैसी ट्रेनिंग को करें और सरकार के साथ सहयोग प्रदान करें।

Share

Related posts

Share