Breaking News

मल्हनी विधानसभा उपचुनाव : बाहुबली धनंजय सिंह को कांग्रेस दे सकती है टिकट ! मंथन जारी, भाजपा ने दिया झटका

विजय श्रीवास्तव/पंकज तिवारी
-दिलचस्प हुआ मल्हनी विधानसभा उपचुनाव
-भाजपा ने अभी तक नहीं खोले अपने पत्ते

जौनपुर। मल्हनी विधान सभा उपचुनाव के शुरूआती दिनों में ही जबरदस्त उलटफेर देखने को मिल रहा है। जहां बसपा व सपा ने अपने प्रत्याशी की घोषणा कर दी हैं वहीं अभी तक भाजपा व कांग्रेस ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं। सुबह से बाहुबली धनंजय सिंह के भाजपा के पाले में जाने की खबर दोपहर बाद उसपर विराम सा लग गया लेकिन वहीं दोपहर बाद से धंनजय सिंह के कांग्रेस का दामन थामने की चर्चा तेजी से मल्हनी विधानसभा क्षेत्र में तैरने लगी। वैसे इसकी कांग्रेस की तरफ से इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है लेकिन इतना तय है कि अगर धनंजय सिंह को कांग्रेस से टिकट मिलता है तो मल्हनी का उपचुनाव काफी दिलचस्प होगा।
धंनजय सिंह के बाबत कांग्रेस प्रदेश सचिव व प्रभारी जौनपुर सरिता पटेल ने 24टाइम्सटूडे से फोन पर बातचीत के दौरान बताया कि अभी कांग्रेस ने अपने प्रत्याशी की घोषणा नहीं किया है। धंनजय सिंह के बाबत पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इस बारें में पार्टी हाईकमान को फैसला लेना है, वैसे उपचुनाव के लिए 30 लोंगो ने कांग्रेस से चुनाव लडने के लिए आवेदन दिया है। यह पूछे जाने पर कि क्या धनंजय सिंह ने आवेदन किया है तो उन्होंने कहा कि नहीं। बहरहाल चुनावी सरगर्मी यह बता रही है कि अगर धनंजय सिंह को कांग्रेस से टिकट मिलता है तो इसमें जहां धनंजय सिंह को भी काफी फायदा होने वाला है वहीं मल्हनी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस मुख्य लडाई में दिखेगी। चुनावी पंडितों को कहना है कि भाजपा में एक खेमा जहां उन्हें टिकट देने में लगा था लेकिन वहीं अतीक अहमद, मुख्तार अहमद के खिलाफ तेजी से चल रही कार्रवाही को वह धनंजय सिंह को टिकट देकर योगी सरकार अभियान को कमजोर नहीं करना चाहती थी। उनकों टिकट देने को मतलब कि योगी सरकार विपक्षियों के निशाने पर आ जाती। अपनी छवि को साफ-सुथरी बनाये रखते हुए योगी सरकार ने धनंजय सिंह को हरी झंडी नहीं दी। अब यह देखना है कि कांग्रेस इस मौके को किस तरह से भजाती है। वैसे यह तय है कि अगर वह कांग्रेस उन्हें टिकट देती है तो मल्हनी उपचुनाव दिलचस्प होगा।

Share

Related posts

Share