Breaking News

मानवता की सेवा नर्सिंग स्टूडेन्टों के लिए कठिन चुनौती : प्रो. पृथ्वीश नाग

meri 1

विजय श्रीवास्तव
– मेरीडियन नर्सिंग एण्ड पैरा मेडिकल कालेज में नये नर्सिंग स्टूडेन्टों ने लिया सेवा का संकल्प व शपथ
-नर्सिंग विश्व का एक पवित्र पेशा : डाॅ पियुष यादव
-नर्सिंग का कार्य डाक्टर से किसी भी मानें में कम नहीं : प्रो. अशोक मिश्रा
वाराणसी। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के कुलपति प्रो. पृथ्वीश नाग ने कहा कि जीवन में मानवता की सेवा करने का संकल्प लेना एक बहुत ही कठिन कार्य है। एक ऐसा महान कार्य जिसमें दर्द से कराहते चेहरे पर मुस्कान व जीवन के प्रति उम्मीद लाने की चुनौती है। वह नर्सिंग पेशा में ही दिखता है। आज उनकी सेवा भावना को देखते हुए ही आज देश के साथ विश्व में नर्सो की मांग लगातार बढ रही है।

meri 2

लेढुपुर स्थित मेरीडियन नर्सिंग एण्ड पैरा मेडिकल कालेज में बी.एस.सी.(नर्सिंग), जी.एन.एम., ए. एन. एम. पैरामेडिकल बैच में नये स्टूडेन्टों को सेवा का संकल्प व शपथ दिलाते हुए प्रो. नाग ने कहा कि अपने अध्ययन व प्रेक्टिकल के दौरान निश्चय ही ये नर्सिंग के छात्र वो सेवा का गुण सिखने में महारत हासिल कर सकेंगे, जो उनके सामने आने वाले चुनौती को दूर करने में काफी मददगार साबित होंगे। आज नर्सिंग के कोर्स करने वालें छात्रों की मांग देश के साथ ही विदेशों में तेजी से बढी है। हमनें अपने विदेश दौरों के दौरान कई स्थानों पर भारतीय नर्सो को सेवा करते देखा जो अच्छी सेलरी भी पाती है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि अगर नर्सिंग पढाई के दौरान अंग्रेजी व अरबी भाषा को भी सीखे तो उन्हें जाब मिलने में कोई कठिनाई नहीं आयेगी और उन्हें अच्छी सेलरी मिलने के भी मौके मिलेंगे।
उक्त अवसर पर काशी विद्यापीठ के संकाध्यक्ष प्रो. अशोक मिश्र ने कहा कि नर्सिंग के अध्ययन की आवश्यकता है। इसके लिए उन्हें अध्ययन व पे्रक्टिकल में कोई कोताही नहीं करनी चाहिए क्योंकि यह अध्ययन ही उनके पेशे के समय काफी मददगार साबित होता है। आज के दौर में नर्स का काम डाक्टरों से भी महत्वपूर्ण हो गया है।
मेरीडियन कालेज के डायरेक्टर डाॅ पियुष यादव ने कहा कि नर्सिंग विश्व का ऐसा पवित्र पेशा है जो जाति-पाति नहीं देखता है। उसे केवल सेवा ही दिखता है। उसमें एक सेवा का एक संकल्प होता है जो किसी के जीवन के लिए महत्वपूर्ण होता है लेकिन यह तभी संभव है जब हम मेहनत व लगन से अध्ययन करें। दो-तीन वर्षो की कठिन मेहनत हमें अनगिनत लोंगो की सेवा के दौरान आने वाली चुनौती को दूर करेगी।
इस दौरान काशी विद्यापीठ के कुलपति प्रो. पृथ्वीश नाग के समक्ष सैकडों की संख्या में नर्सिंग के नये छात्राओं को कैंडिल हाथों में लेकर सेवा का संकल्प व शपथ लिया। इस दौरान डायरेक्टर डाॅ पियुष यादव ने जहां कुलपति को व डाॅ विवेक यादव ने संकाध्यक्ष को स्मृति चिन्ह प्रदान किया। इससे पूर्व कालेज के वाइस प्रिसिंपल चन्दशेखर ने वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का संचालन अनुपम दुबे ने किया।

 

Share

Related posts

Share