मिड डे मील के समीप सौन्दर्य प्रसाधन वस्तुए, तेल व पेयजल पाये जाने पर होगी कार्यवाही

mid de
विजय श्रीवास्तव
-मध्यान्ह भोजन प्राधिकरण ने जारी किए दिशा निर्देश
-विगत दिनों शाहजहांपुर में एक स्कूल के किचन चावल में मिला था संदिग्ध पाउडर
लखनऊ/वाराणसी। मध्यान्ह भोजन प्राधिकरण, उ.प्र. ने स्कूलों में मध्यान्ह भोजन योजना के संचालन में रखरखाव में सावधानी रबरतने के सन्दर्भ में दिशा निर्देश जारी किया है। प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को भेजे गये पत्र में प्राधिकरण ने कहा हैेे कि वे स्कूलों में मध्यान्ह भोजन योजना से संबधित सामग्री के रख-रखाव पर विशेष ध्यान दें। वि़द्यालयों में स्थित रसोई घर/स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा संचालित केन्द्रीय किचन में प्रतिदिन मध्यान्ह भोजन बनाने से पूर्व यह सुनिश्चित कर लें कि खाद्य सामग्री के आसपास मध्यान्ह भोजन में प्रयुक्त होने वाले खाद्य सामग्री के अतिरिक्त किसी प्रकार का सौन्दर्य प्रसाधन /कास्मेटिक वस्तु, तेल, पेय पदार्थ व किसी भी प्रकार का अंवान्छनीय पदार्थ न रखा जाये।
जारी पत्र में कहा गया है कि जिलाधिकारी अपने स्तर से जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी व खण्ड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित करें। मालूम हो कि 21 अगस्त को शाहजहाॅपुर में प्राथमिक विद्यालय में मध्यान्ह भोजन के अन्तर्गत बच्चों को उपलब्ध कराये गये खाद्यान्न चावल में पाउडर जैसा संदिग्ध पदार्थ पाये जाने की घटना प्रकाश में आयी थी। जिस पर जिलाधिकारी शाहजहाॅपुर को इस संदर्भ में कार्यवाही करते हुए संदिग्ध पदार्थ के परीक्षण हेतू खाद्या सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन को निर्देशित किया था।
 

Share

Leave a Reply

Share