Breaking News

मोदी सरकार ने तीसरी बार देश में दो हफ्तें के लिए किया लाॅकडाउन, अब 17 मई तक जारी रहेगा, वाराणसी रेड जोन में

विजय श्रीवास्तव
-130 जिलें रेड जोन, 284 जिलें आरेंज जबकि 319 जिलें ग्रीन जोन में होंगे
-मॉल्स-पब्स, रेस्टोरेंट रहेंगे बंद 17 मई तक
-हवाई, रेल और मेट्रो की यात्राओं पर पाबंदी
-स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थानों को 17 मई तक बंद

लखनऊ। देश में कोरोना वायरस का संकट लगातार बढ़ता जा रहा है। जिसकों देखते हुए मोदी सरकार ने तीसरी बार पूरे देश में लाॅकडाउन 17 मई तक आगे बढा दिया। मालूम हो कि 3 मई तक पहले से ही सम्पर्ण देश में लाॅक डाउन लागू हैं। सरकार ने पूरे देश को तीन जोन में बाट दिया है। जिसमें 130 जिलों को रेडजोन घोषित किया वहीं 284 जिलें आरेंज जबकि 319 जिलें ग्रीन जोन में होंगे। लॉकडाउन 2.0 की मियाद तीन मई को खत्म होने के पहले ही मोदी सरकार के जरिए देशव्यापी लॉकडाउन को दो हफ्तों के लिए बढ़ाए जाने का फैसला किया गया है। इस वैसे गृह मंत्रालय ने 14 दिनों के लिए लॉकडाउन को बढ़ाने की घोषणा की। इसके साथ ही गृह मंत्रालय ने एडवाइजरी भी जारी की है। इसके साथ ही गृह मंत्रालय ने राज्यों से सख्ती से लॉकडाउन का पालन करवाए जाने की बात कही है।


गौरतलब है कि इस बार मोदी सरकार ने लॉकडाउन में कुछ छूट दी है। इस छूट के मद्देनजर ग्रीन और ऑरेंज जोन में तो कई तरह की रियायतें दी गई है। इन रियायतों में ई-कॉमर्स को भी छूट का ऐलान किया गया है। ग्रीन और ऑरेंज जोन में ई-कॉमर्स को मंजूरी दी गई है। इन जोन में गैर-जरूरी सामानों की ऑनलाइन डिलीवरी पर छूट दी गई है। इसके साथ ही ग्रीन जोन में 50 फीसदी सवारी लेकर बसें चलाने की अनुमति दी गई है। ग्रीन जोन में बस डिपो में 50 फीसदी कर्मचारी ही काम करेंगे। हालाकि मॉल्स-पब्स बंद रहेंगे।
इस दौरान कई गतिविधियों पर रोक जारी रहेगी। लॉकडाउन के दौरान स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थानों को 17 मई तक बंद रखा जाएगा। इसके अलावा मॉल्स, सिनेमा, पब्स, रेस्टोरेंट्स आदि को भी बंद रखा जाएगा। इस दौरान हवाई, रेल और मेट्रो की यात्राओं पर पाबंदी रहेगी।


कुछ प्रतिबंध ऐसे है जो सभी जोन में लागू होंगे। जो निम्नवत हैं –
हवाई यात्रा, रेल, मेट्रो, राज्यों के बीच किसी तरह का परिवहन बंद रहेगा।
स्कूल, कॉलेज व अन्य एजुकेशनल इंस्टीट्यूट बंद रहेंगे।
होटल, रेस्टोरेंट्स, सिनेमा हॉल, जिम, स्पोर्ट्स कॉम्पलैक्स बंद रहेंगे।
किसी भी तरह के राजनीतिक, धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक कार्यक्रमों के आयोजन पर रोक है।
65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों, गर्भवती महिलाओं, 10 साल से छोटे बच्चों को और ऐसे लोगों को, जिन्हें पहले से ही कोई बीमारी है, इन्हें बाहर निकलने की अनुमति नहीं है।
ओपीडी, मेडिकल सर्जरी की सेवाएं जारी रहेंगी।
एक जिले से दूसरे जिले में जाने की बिल्कुल इजाजत नहीं होगी। अगर कोई राज्य पूरी तरह से ग्रीन जोन में है तो वहां का स्थानीय प्रशासन एक जिले से दूसरे जिले में जाने की अनुमति दे सकता है।
रेड जोन में निम्न कार्यो के लिए होगी अनुमति
सभी उद्योग, कंस्ट्रक्शन कार्यों की अनुमति रहेगी। इसमें मनरेगा, फूड प्रोसेसिंग यूनिट, ईंट भट्ठे चालू रहेंगे।
ग्रामीण क्षेत्रों में शॉपिंग मॉल को छोड़कर सभी दुकानें खुली रहेंगी। कृषि और पशु पालन से जुड़ी सारी गतिविधियां होंगी।
बैंक, फाइनेंस कंपनी, इंश्योरेंस और कैपिटल मार्केट एक्टिविटी जारी रहेंगी। आंगनबाड़ी का काम भी जारी रहेगा।
प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, आईटी सेक्टर, डेटा और कॉल सेंटर, कोल्ड स्टोरेज, प्राइवेट सिक्योरिटी सर्विस जारी रहेंगी।
मैन्युफैक्चिंगर यूनिट में ड्रग्स, फार्मा, मेडिकल डिवाइस, जूट इंडस्ट्री जारी रहेंगी, लेकिन यहां सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा।


ऑरेंज जोन में किन-किन गतिविधियों में मिलेगी छूट-
निजी कार और कैब में ड्राइवर के अलावा पिछली सीट पर दो लोग बैठ सकेंगे।
जिले के अंदर आवाजाही हो सकेगी।
ग्रीन जोन में किन-किन गतिविधियों में मिलेगी छूट-
शराब, बीड़ी, पान-गुटखा की दुकानें खुलेंगी। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा और इस बात का ध्यान रखना होगा कि एक वक्त में दुकान पर 5 लोग ही हों और छह गज की दूरी हो।
डिपो से 50ः बसों के संचालन में छूट, लेकिन एक बस में 50 प्रतिशत यात्री को ही बैठने की अनुमति है। सभी तरह की गतिविधियों के लिए अनुमति, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी। किसी भी कार्यक्रम को कराने से पहले प्रशासन की अनुमति लेनी होगी। कार्यक्रम में सीमित लोग ही शामिल हो सकेंगे।

Share

Related posts

Share