Breaking News

यूपी, बिहार, ओडिशा, पश्चिम बंगाल में आंधी-तूफान आने की चेतावनी, तीन से चार दिन तक मचा सकता है तबाही

images

-विगत दो दिनों में पांच राज्यों में आयी आंधी-तूफान से 124 की जहां मौत वहीं 300 से अधिक घायल
-आंधी-तूफान असम और मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के
नई दिल्ली। गृह मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा ओैर बिहार में आज आंधी तूफान आने की एक ताजा चेतावनी जारी की है। मंत्रालय ने कहा कि पिछले दो दिनों के दौरान पांच राज्यों में आंधी..तूफान और आकाशीय बिजली गिरने से 124 व्यक्तियों की मौत हो गई और 300 से अधिक घायल हुए हैं। तूफान से देशभर में 124 लोगों की जान चली गई लेकिन इसका खतरा अभी कम नहीं हुआ है। इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट ;प्डक्द्ध ने भी अगले 24 घंटे में आंधी-तूफान के लौटने की आशंका जताई है। मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवात की स्थिति बनने की वजह से यह अनुमान लगाया गया है।

times 2

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि आंधी तूफान असम और मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के छिटपुट स्थानों पर आ सकता है। जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, चंडीगढ़, और दिल्ली, पंजाब, बिहार, झारखंड, सिक्किम, ओड़िशा, उत्तर पश्चिम मध्यप्रदेश, तेलंगाना, रायलसीमा, उत्तर तटवर्ती आंध्र प्रदेश, अंदरूनी तमिलनाडु और केरल में छिटपुट स्थानों पर आंधी तूफान और तेज हवाएं चलने की आशंका है। तमिलनाडु और केरल में छिटपुट स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है जबकि राजस्थान में छिटपुट स्थानों पर धूल भरी आंधी और आंधी तूफान आ सकता है।
गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि दो दिनों में उत्तर प्रदेश में अधिकतर मौतें और लोगों के घायल होने की घटनाएं आगरा क्षेत्र में हुई। राजस्थान में कुल मिलाकर 35 व्यक्तियों की मौत हुई और 206 घायल हो गए। वहीं तेलंगाना में आठ, उत्तराखंड में छह और पंजाब में दो व्यक्तियों की मौत हुई है। तेलंगाना, उत्तराखंड और पंजाब में करीब 100 व्यक्ति घायल हुए हैं। आंधी तूफान के बाद कई क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति बाधित हुई क्योंकि कई पेड़ उखड़ गए और इससे बिजली के तार टूट गए। प्रभावित राज्यों में गत दो दिनों में बिजली के कम से कम 12000 खंभे गिर गए और 2500 ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त हुए।

 

 

Share

Related posts

Share