Breaking News

यूपी बोर्ड परीक्षा: पहले ही दिन यूपी में 115420 ने छोड़ी परीक्षा

up
-मोदी के गढ़ वाराणसी में 10 हजार से अधिक ने परीक्षा छोड़ी
-सबसे अधिक आजमगढ़ में 20 हजार से अधिक ने छोड़ी परीक्षा
-वैसे ग्रामीण क्षेत्रों सहित कई स्थानों पर नहंी दिखा कोई खौफ
-पहले दिन कई परिक्षार्थी जंहा पकड़े गये वहीं कई सेन्टरों पर हुई कार्रवाई
वाराणसी। उत्तर प्रदेश में अभी भाजपा की सरकार तो नहीं बन पायी है लेकिन उसका खौफ सर चढ़ कर बोल रहा है। इस खौफ का असर सबसे अधिक यूपी बोर्ड की परीक्षा दे रहे परिक्षार्थियों पर देखने को मिल रहा है। साल भर मौज-मस्ती में रहे इन परिक्षार्थियों को ऐन वक्त पर उनके नकल माफिआओं ने झटका दे दिया। जिससे हिन्दी जैसे विषय में भी प्रदेश के 1 लाख से ऊपर परिक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी है। प्रदेश के चुनाव के दौरान पीएम मोदी ने बोर्ड की परीक्षा के दौरान होने वाली नकल का मुद्दा जोरदार ढंग से उठाया था। जिसका खौफ अब इन परिक्षार्थियों पर सर चढ़ कर बोल रहा है।
गौरतलब है कि यूपी बोर्ड की परीक्षा 16 मार्च से शुरू हो गयी है। पहले दिन हिन्दी का प्रश्नपत्र था लेकिन सत्ता में परिवर्तन से परिक्षार्थियों के साथ स्कूल संचालकों पर भी खौफ साफ नजर आने लगा है। केवल वाराणसी में जहां 10702  ने परीक्षा छोड़ी वहीं आजमगढ़ में 20499 ने परीक्षा को अलविदा कर दिया। नकल का गढ़ माने जाने वाले गाजीपुर में जहां 19136 ने परीक्षा छोड़ दी वहीं बलिया में 17793 छात्रों ने परीक्षा छोड़ दिया। वैसे इन दोंनो जिलों में कई स्थानों पर धुआधार नकल होते हुए भी दिखा। मऊ में 15278 ने परीक्षा छोड़ दी वहीं जौनपुर में 10498 ने परीक्षा से नाता तोड़ दिया। आजमगढ़ में जहां एक सेन्टर को निरस्त कर दिया गया वहीं दर्जन भर फर्जी ढंग से परीक्षा दे रहे छात्रों को पकड़ा गया। इसके साथ ही प्रदेश में 100 से अधिक जहां छात्रों को नकल के आरोप में पकड़ा गया वहीं लगभग दो दर्जन से अधिक कक्ष निरिक्षकों को भी नकल कराने के आरोप में कार्यमुक्त कर दिया गया ।

Share

Related posts

Share