Breaking News

योगी के अपने गढ़ में हार पर शिवसेना हुई हमलावर

shiv

-कहा ऐसी नहीं थी उम्मीद
-गोरखपुर में सीएम योगी ने जिन वार्ड में वोट डाला, वह सीट भाजपा हार गयी
मुम्बई । उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ प्रदेश में भाजपा के परमच लहराने में भले ही फूले समा नहीं रहे हों लेकिन उनके अपने ही जनपद गोरखपुर में जिस स्थान पर योगी ने वोट डाला वहां भाजपा के करारी हार पर शिवसेना हमला बोल दिया है। इतना ही नहीं उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को भी निशाने पर लिया है। इस तरह शिवसेना ने अपने सहयोगी दल भारतीय जनता पार्टी की एक बार फिर आलोचना की है। आज शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में तीखा हमला किया है।
गौरतलब है कि यूपी में निकाय चुनाव में भाजपा ने अपना परचम लहराया है लेकिन वहीं स्वंय मुख्यमंत्री योगी व डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के जनपद में ही नहीं वरन जिन वार्ड में उन्होंने अपने भाजपा के उम्मीदवार को वोट डाला वे हार गये। योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में जिस बूथ पर वोट किया था, वहां वार्ड नंबर 68 में जिस सीट पर उन्होंने वोटिंग की थी, उस सीट पर ही बीजेपी हार गई है। यहां से नादिरा खातून नाम की महिला ने बीजेपी प्रत्याशी माया त्रिपाठी को 483 वोटों से हरा दिया। वहीं केशव प्रसाद मौर्य के घर में बीजेपी नगर पंचायत की सीट हार गई। इसके लिए शिवसेना ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डिप्टी मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को निशाने पर लिया। शिवसेना के मुखपत्र सामना में गोरखपुर में उस बूथ का जिक्र किया है, जहां योगी आदित्यनाथ ने वोट डाला था और वहां एक निर्दलीय उम्मीदवार ने जीत दर्ज की है। शिवसेना ने अपने सामना में लिखा है, ‘‘यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिस बूथ पर मतदान किया था, वहां बीजेपी का प्रत्याशी खुद चुनाव हार गया। योगी के गढ़ में ऐसे चुनावी नतीजों की अपेक्षा पूरे राज्य में किसी को नहीं थी।‘‘ सामना यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को निशाने पर लेते हुए लिखा है, ‘‘योगी के साथ ही डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने भी पार्टी को निराश किया है. उनके इलाके की 6 नगर पंचायत सीट बीजेपी हार गई।‘‘
शिवसेना ने इतना ही नहीं एक कदम और बढते हुए बीएसपी की तारिफ भी कर डाली। जिससे महाराष्ट्र में भाजपा के शिवसेना में हुई खटास के और गहराने को लेकर देखा जा रहा है। सामना में लिखा गया है कि बसपा ने भले ही बहुत बड़ी जीत हासिल न की हो, लेकिन हाथी की ताकत को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

 

Share

Related posts

Share