योगी ने सुस्त अधिकारियों को 50 साल की उम्र में ही रिटायर का किया एलान

yogi
-शिकायतों व अधिकारियों के उदासीनता से बिखरें योगी आदित्यनाथ
-कार्मिक विभाग ने शासनादेश किया जारी
-तीन माह पूर्व दिया जायेगा नोटिस
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को पटरी पर लाने के लिए अब लापरवाह व सुस्त कर्मचारियों और अधिकारियों के साथ सख्ती का एलान किया है। उन्होंने सीधे शब्दों में कहा है कि जो अधिकारी व कर्मचारी सुस्त व लापरवाह होगें उसे सरकार 50 साल की उम्र में ही रिटायरमेंट कर घर का रास्ता दिखायेगी।
गौरतलब है कि केन्द्र की मोदी सरकार ने अधिकारियों के उनके काम की सुस्ती को लेकर आधा दर्जन अधिकारियों को समय से पूर्व ही रिटायरमेंट कर घर का रास्ता दिखा दिया था। अब वहीं फार्मूला योगी सरकार ने भी लागू करने का फैसला किया है कि जो सरकारी कर्मचारी और अधिकारी काम में सुस्त हैं, उन्हें अनिवार्य रिटायरमेंट दिया जाएगा। इसके लिए कार्मिक विभाग ने बाकायदा शासनादेश जारी कर दिया है। ऐसे कर्मचारियों और अधिकारियों की लिस्ट तैयार करने के बाद उन्हें नोटिस जारी किया जाएगा। नोटिस में रिटायरमेंट का कोई कारण नहीं बताया जाएगा। तीन महीने को नोटिस पीरियड रहेगा, उसके बाद ऐसे अधिकारियों को कार्यमुक्त कर दिया जाएगा। इसके लिए स्क्रीनिंग कमेटी अपनी रिपोर्ट देगी। रिपोर्ट के आधार पर एक्शन लिया जाएगा।

Share
See also  अब नए पाठ्यक्रम में योगी आदित्यनाथ, बाबा रामदेव ,कुंवर बेचैन, बशीर बद्र, आर्यभट्ट होंगे शामिल

Leave a Reply

Share