Breaking News

अपडेट: मनोहर पर्रिकर गोवा के मुख्यमंत्री नियुक्त, एमजीपी के सुदिन धवलिकर डिप्टी सीएम

manohar
-15 दिन में साबित करना होगा बहुमत
-शपथ लेने के पहले कैबिनेट मंत्रिमंडल से देंगे इस्तीफा: नितिन
नई दिल्ली। आखिरकार गोवा के राज्यपाल मृदुल सिन्हा ने रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को गोवा का मुख्यमंत्री नियुक्त कर दिया है। अब परिर्कर को गोवा विधानसभा में 15 दिन के अन्दर बहुमत साबित करना होगा। मालूम हो इससे पहले बीजेपी ने गवर्नर से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है। पार्टी ने कुल 22 विधायकों के सपोर्ट का दावा किया है। केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने रविवार रात को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि उन्हें गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी), महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी (एमजीपी) और 3 निर्दलीय विधायकों ने सपोर्ट कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक, एमजीपी के सुदिन धवलिकर को डिप्टी सीएम बनाया गया है । मनोहर पर्रिकर से जुड़े करीबी सूत्रों ने साथ ही बताया कि पर्रिकर मंगलवार शाम सीएम पद की शपथ लेंगे और इसके लिए 5.06 बजे का शुभ समय तय किया गया है।’ यहां मपूसा सीट से उपचुनाव लड़ेंगे। वहीं इस सीट से मौजूदा विधायक एवं पूर्व उपमुख्यमंत्री फ्रांसिस डी’सूजा को राज्यसभा भेजा जाएगा।
गौरतलब है कि  40 सीटों वाली गोवा विधानसभा में बहुमत के लिए 21 सीटों की जरूरत है, लेकिन इस नंबर तक कोई नहीं पहुंच पाया। कांग्रेस को 17 और बीजेपी को 13 सीटें मिलीं। रविवार रात पार्टी के विधायकों ने सपोर्टर्स के साथ गवर्नर से मुलाकात भी की।  नितिन गडकरी ने पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि पर्रिकर अभी रक्षा मंत्री बने रहेंगे। सीएम पद की शपथ लेने से पहले वो मोदी कैबिनेट से इस्तीफा देंगे। गडकरी ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा, जो अपने बहुमत के लिए दूसरी पार्टियों को अपने साथ नहीं ले सके वो अपनी असफलता को छुपाने के लिए झूठे आरोप लगाते हैं। जब अंगूर खाने के लिए नहीं मिलते तो वो खट्टे हैं कहना आसान होता है।
गौरतलब है कि इससे पहले पर्रिकर और गडकरी ने 21 विधायकों के दस्तखत वाला लेटर गवर्नर को सौंपा। बीजेपी ने कुल 22 विधायकों के सपोर्ट का दावा किया है।

Share

Related posts

Share