Breaking News

वाराणसी : विद्युत अधिशासी अभियंता चतुर्थ खंड निलंबित, कार्य क्षेत्र के बाहर जाकर अनधिकृत रूप से कार्य कराए जाने का आरोप

विजय श्रीवास्तव
-चंद्रेश उपाध्याय अधिशासी अभियंता नगरीय विद्युत वितरण खंड, चतुर्थ वाराणसी में है तैनात
-अपने गृह जनपद भदोही के थाना औराई के उगापुर में करा रहे थे विद्युत कार्य

-प्रबंध निदेशक पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम द्वारा गठित जांच समिति के रिपोर्ट पाए गये दोषी
वराणसी। कार्य क्षेत्र के बाहर जाकर अनधिकृत रूप से कार्य कराए जाने के आरोप में अधिशासी अभियंता चंद्रेश उपाध्याय का आज तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया। आरोप है कि अधिशासी अभियंता नगरीय विद्युत वितरण खंड, चतुर्थ वाराणसी द्वारा अपने कार्य क्षेत्र के बाहर अपने गृह जनपद भदोही के ग्राम उगापुर, थाना औराई में अवैध, अनधिकृत लाइन निर्माण विभागीय नियमों के विपरीत करवाया गया।


गौरतलब है कि चंद्रेश उपाध्याय द्वारा अपने जनपद वाराणसी से बाहर जाकर दूसरे जनपद भदोही में द्वारा अवैध, अनधिकृत लाइन निर्माण का कार्य कराने की जानकारी विभाग को मिली थी। जिसपर गोपनीय स्तर पर प्रबंध निदेशक, के बालाजी पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम द्वारा एक जांच समिति का गठन कर उसकों जांच का जिम्मा सौपा था। गठित जांच समिति की आज रिपोर्ट आने पर अपने कार्य क्षेत्र के बाहर अवैध रूप से लाइन निर्माण करवाने में चंद्रेश उपाध्याय अधिशासी अभियंता नगरीय विद्युत वितरण खंड, चतुर्थ वाराणसी प्रथम दृष्टया दोषी पाए गए। रिपोर्ट में पाया गया कि उन्हांेने अपने पद का दुरुपयोग किया गया जो एक गंभीर विषय है, जिसपर आज के बालाजी प्रबंध निदेशक पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड द्वारा चंद्रेश उपाध्याय अधिशासी अभियंता को अग्रेतर जाँच एवं अनुशासनिक कार्यवाही किए जाने हेतु तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया तथा चंद्रेश उपाध्याय, अधिशासी अभियंता, निलंबन अवधि में मुख्य अभियंता (वितरण) वाराणसी कार्यालय, से सम्बद्ध रहेंगे।

Share

Related posts

Share