Breaking News

वाराणसी : सलारपुर-दीनापुर के बदहाल सड़क को लेकर स्थानीय लोंगो का हल्ला बोल कार्यक्रम

विजय श्रीवास्तव
-क्षेत्रीय जनता ने पूर्व प्रधान संजय मौर्य के नेतृत्व में सतरंगी तिराहे पर दिया धरना
-जिला पंचायत सदस्य संजय मिश्रा दिया बनवाने का आश्वासन

वाराणसी। प्रधानमंत्री का संसदीय क्षेत्र वाराणसी की अधिकतर सड़कें बदहाल हैं, आए दिन डीएम से लेकर कमिश्नर तक के सड़क के गड्ढों को पाटने के निर्देश के बाद भी सम्बन्धित विभाग कुंभकर्णीय निद्रा में लीन है। इसी क्रम में आज आजिज होकर दीनापुर, सलारपुर, कमौली आदि के स्थानीय लोंगों ने सलारपुर के पूर्व प्रधान संजय मौर्य के नेतृत्व में धरना दिया।
गौरतलब है कि सतरंगी तिराहा सलारपुर से दीनापुर होकर जाने वाली कोटवां कमौली मार्ग की स्थिति इतनी खराब है कि थोड़ा सा बरसात हो जाने के बाद पैदल चलना भी दूभर हो जाता है । भारी वाहनों के आवागमन से सड़क पर इतने गड्ढे हो गये है कि लगता ही नहीं कि यह पिच रोड है। इस रास्ते पर बने गड्ढों में गिरने से बहुतेरे लोगों ने अपने हाथ पैर तुड़वा लिये है।अब तो लोग इस रास्ते से बचने के लिये दो किमी घुमकर जाते हैं।
वक्ताओं ने कहा कि इस सड़क से प्रदेश के मुख्यमंत्री साल में तीन बार आकर गंगा प्रदूषण प्लांट का निरीक्षण करते हैं। लेकिन न तो उनकी नजर इस रोड पर पडी और नहीं ही इस खराब चर्चित रास्ते का पुरसाहाल क्षेत्र के किसी जनप्रतिनिधि ने कोई पहल की। जिससे हताश होकर क्षेत्रीय जनता ने पूर्व प्रधान संजय मौर्य के नेतृत्व में आज मंगलवार सुबह 8 बजे से 9 बजे तक सतरंगी तिराहे पर भारी मात्रा में भीड़ जुटाकर रास्ता बनवाने हेतू जनप्रतिनिधियों और सक्षम अधिकारियों के ध्यानाकर्षण हेतू ‘हल्ला बोल कार्यक्रम‘ का आयोजन किया।
धरना स्थल पर सभी प्रभावित गांव के जागरूक छोटे बड़े जनप्रतिनिधि आये व सरकार के वर्तमान विधायक मंत्री. और सांसद की जमकर खिचाइ की । इस बीच वहाँ से गजर रहे क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य संजय मिश्रा को भी आड़े हाथों लिया। इसपर मिश्राजी ने कहा मै हमेशा से इस क्षेत्र के विकास के लिये तत्पर रहा हूं। मैने हर संभव विकास करने की भरसक कोशिश की है । मेरी जो क्षमता है एक जिला पंचायत सदस्य की लगभग 10 लाख की उससे मैं तीन-चार सौ मीटर के सड़क को ही दुरुस्त करवा सकता हूं और वह भी 1 सप्ताह के भीतर मैं जिला पंचायत के माध्यम से इस काम को अविलंब शुरू करवा दूंगा। इस आश्वासन पर क्षेत्रीय जनता ने हल्ला बोल कार्यक्रम यह कहकर समाप्त किया कि अब अगला कार्यक्रम अगले चैराहे से करेगें जब तक की पूरी सड़क न बन जाय। हल्ला बोल कार्यक्रम में सड़क बनवाने हेतू मुख्यमंत्री को संबोधित खुला पत्र मीडिया के समक्ष दिया गया।
जिसमें प्रमुख रुप से सर्वश्री विनय जायसवाल, आलोक वर्मा, रमेशगुप्ता, मनीष सिंह, सुधाकर मिश्र, गौतम यादव, राजकुमार मौर्य, सुदामा यादव, पिकीं मौर्य, दीनानाथ, अजय मौर्य, राजेश रावत, अनुप यादव, राजेश यादव, दिनेश यादव, गोकुल आदि लोग उपस्थित थे।

Share

Related posts

Share