Breaking News

विद्युतकर्मियों का विरोध जारी, खाली लाखों पदों पर अबिलम्ब भर्ती करने की मांग

विजय श्रीवास्तव
-प्रबन्ध निदेशक कार्यालय भिखारीपुर पर निजीकरण के खिलाफ आज अठारहवे दिन भी जारी रहा विरोध प्रदर्शन

वाराणसी। विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले प्रबन्ध निदेशक कार्यालय भिखारीपुर पर निजीकरण के खिलाफ आज अठारहवे दिन भी वाराणसी के समस्त बिजली कर्मचारियों एवं अभियंताओं ने प्रबन्ध निदेशक कार्यालय भिखारीपुर पर एकजुट होकर निजीकरण के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन ।
सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओ ने बताया कि यह सब जानते है कि निजीकरण से केवल और केवल पूंजीपतियों को ही फायदा होता है आमजनता को नही लेकिन आम जनता को गुमराह किया जा रहा है जबकि सच्चाई यह है कि स्मार्ट मीटर जबसे ये प्राइवेट कम्पनिया लगा रही है तब से उपभोक्ताओं की परेशानियों इतनी बढ़ गयी है कि न ही उन्हें सही बिल की जानकारी हो पा रही है और न ही मीटर खराब होने पर कंपनी उनकी शिकायतों का निस्तारण कर रही है जबकि मीटर की गारन्टी साढ़े पांच साल की है और 2घंटे के अंदर कंपनी को उसे बदलने का आदेश है लेकिन वे ऐसा नही कर रहे है और यह सब परेशानी देखकर भी विभागीय अधिकारी मदद नही कर पा रहे क्योंकि इन कंपनियों पर इनका नियंत्रण नही है। अभी हाल ही में जन्माष्टमी के दिन लाखो उपभोक्ताओं के लाइन बिना बकाये के काट दी गयी एव दो दिन पहले तेज लाइटेनिंग से खराब हुए मीटरों को भी इतनी शिकायतों के बाद भी अभी तक नही बदले गए। जिससे उपभोक्ताओं में विभाग के प्रति छवि खराब हो रही है और इसके सीधे दोषी ये निजी कंपनियां है।


वक्ताओ ने आज पुनः मुख्यमंत्री जी और ऊर्जामंत्री से अनुरोध किया है कि निजीकरण किसी भी दशा में जनकल्याणकारी नही है इसपर तत्काल प्रभावी हस्तक्षेप कर जनता को अच्छी बिजली देने के लिए बिभाग में रिक्त पड़े लाखों पदों पर अबिलम्ब भर्ती कराने हेतु निर्देशित करें।
सभा को सर्वश्री ई0 चंद्रेशखर चैरसिया, आर0के0 वाही, डॉ0 आर0बी0 सिंह,मायाशंकर तिवारी, ए0के0 श्रीवास्तव,ई0 संजय भारती, गुलाब प्रजापति,राजेन्द्र सिंह,ई0 जगदीश पटेल , जिउतलाल, हेमंत श्रीवास्तव,अंकुर पाण्डेय, रमन श्रीवास्तव,वीरेंद्र सिंह, रमाशंकर पाल,अमितानंद त्रिपाठी, संतोष कुमार आदि पदाधिकारियो ने संबोधित किया।

Share

Related posts

Share