Breaking News

वृक्षों को रक्षा सूत्र बांधकर ब्रह्माकुमारी बहनों ने लिया पर्यावरण का संकल्प

bm 1
विजय श्रीवास्तव
निःस्वार्थ प्यार और मर्यादित आचरण है सबसे बडा उपहार-ब्र.कु. सुरेन्द्र दीदी
– भारतीय सभ्यता और संस्कृति के प्रति किया जागरूक  
– स्वदेशी राखी के प्रयोग पर बल, आमजन से सहयोग की अपेक्षा
वाराणसी। ब्रह्माकुमारी संस्था के क्षेत्रीय कार्यालय, ग्लोबल लाईट हाउस, सारनाथ में आपसी प्रेम, सौहार्द, एकता एवं पावनता का प्रतीक रक्षाबंधन पर्व आज धूमधाम से मनाया गया। ‘‘आध्यात्मिक रक्षाबंधन‘‘ कार्यक्रम में संस्थांगत स्थानीय भाई-बहनों के साथ विभिन्न संस्थओं के लोंगो को संस्था की ब्रह्माकुमारी बहनों ने राखी बांध कर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। इसी क्रम में ब्रह्माकुमारी बहनों ने ग्लोबल लाईट हाउस परिसर में स्थित वक्षों को संस्था की क्षेत्रीय निदेशिका राजयोगिनी ब्र.कु. सुरेन्द्र दीदी के नेतृत्व में राखी बांध कर पर्यावरण की रक्षा का संकल्प लिया।

bm 3
     उक्त अवसर आयोजित एक कार्यक्रम में क्षेत्रीय निदेशिका राजयोगिनी ब्र.कु. सुरेन्द्र दीदी ने श्रद्धालुओं को राखी बांधकर मानसिक विकृतियों, बुराईयों एवं कुरीतियों से स्वयं की रक्षा का संकल्प दिलाया। उक्त अवसर पर उन्होंने कहा कि जब हम मनोविकारों, बुराईयों एवं व्यसनों से स्वयं की रक्षा कर अपने को आध्यात्मिक एवं नैतिक मूल्यों के बंधन में बाधेगें तभी बहनों की रक्षा हो सकेगी । दुनिया की सभी बहनों के प्रति निःस्वार्थ प्यार एवं मर्यादित आचरण ही बहनों के लिए सबसे बडा उपहार है। जिससे ही बहनों का जीवन सरल, सुखद एवं खुशहाल बन सकेगा।

bm 2
    इस अवसर पर संस्था के प्रबन्धक राजयोगी ब्र.कु. दीपेन्द्र भाई ने कहा कि प्राचीन भारतीय सभ्यता, संस्कृति और पर्यावरण की रक्षा से ही मानव समाज और विष्व की रक्षा हो सकेगी। संस्था स्वदेश में निर्मित राखी बांधकर देष प्रेम की भावना को भी बढ़ावा दे रही है जिसमें हमें जन-जन के सहयोग की अपेक्षा है। उक्त अवसर पर संस्था के मीडिया प्रभारी विपिन भाई ने कहा कि आज रक्षा सूत्र बांधकर हमें खुद से यह वचन लेना होगा कि हम स्वयं को नैतिक एवं आध्यात्मिक बंधन में बांधकर अपने जीवन एवं समाज को श्रेष्ठ दिशा देगें । हम भारतीय सभ्यता और संस्कृति के अनुरूप श्रेष्ठ आचरण द्वारा सामाजिक परिवर्तन लायेगें। विपिन भाई ने कहा कि संस्था की ओर से पूरे भारतवर्श और विष्व के 140 देषों में प्राचीन भारतीय श्रेष्ठ सभ्यता, संस्कृति और पर्यावरण की रक्षा का सन्देश देते हुए ब्रह्माकुमारी बहनें रक्षा सूत्र बांधेगीं। कल संस्था की ओर से केन्द्रिय कारागार के कैदीयों की सूनी कलाई के साथ अनेक प्रशासनिक, राजनीतिक व्यक्ति और प्रबुद्धजनों को रक्षा सूत्र बांधा जायेगा । उक्त अवसर पर ब्रह्माकुमारी बहनें रेखा, प्रभा, सरिता, तापोशी, पूनम आदि ने भी लोगों को रक्षा सूत्र बांधा।

Share

Related posts

Share