सुलखान सिंह होंगे उत्तर प्रदेश के नए डीजीपी

PPPP

(विजय श्रीवास्तव)
-1980 बैच के आईपीएस अफसर हैं
-जावीद अहमद पीएसी में किए गये ट्रासंफर
-दर्जन भर आई-पीएस अधिकारियों के भी हुए तबादले
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त करने के दृष्टिगत योगी आदित्यनाथ की सरकार ने आज फिर फेरबदल किया। वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी सुलखान सिंह अब उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक होंगे। इससे पहले वे डीजी ट्रेनिंग के पद पर तैनात थे। वहीं इस पद से हटाए गए जावीद अहमद को पीएसी का डीजी बनाया गया है। इन दोनों अफसरों सहित यूपी में 12 आई-पीएस अधिकारियों के तबादले किए गए हैं।
उत्तर प्रदेश सरकार ने शुक्रवार की शाम 12 वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों की ट्रांसफर सूची जारी की। यूपी पुलिस के मुखिया बनाए गए सुलखान सिंह 1980 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। जो अभी तक डीजी ट्रेनिंग के पद पर तैनात थे। इसके अतिरिक्त पुलिस भर्ती बोर्ड़ के अध्यक्ष और डीजी अभियोजन के पद पर तैनात डॉ. सूर्य कुमार को डीजी अभियोजन के पद से मुक्त कर दिया गया है. वे अब पुलिस भर्ती बोर्ड के अध्यक्ष पर बने रहेंगे. डॉ. कुमार 1982 बैच के अधिकारी हैं। इसी प्रकार 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी आलोक प्रसाद को पुलिस महानिदेशक, होमगार्डस के साथ-साथ पुलिस महानिदेशक, प्रशिक्षण मुख्यालय का कार्यभार भी दे दिया गया है।
1986 बैच के आईपीएस अधिकारी जवाहर लाल त्रिपाठी को पुलिस महानिदेशक अभिसूचना मुख्यालय से हटाकर पुलिस महानिदेशक अभियोजन बनाया गया है। 1987 के बैच आईपीएस अधिकारी भवेश कुमार सिंह को एडीजी सुरक्षा के पद से हटाकर एडीजी अभिसूचना के पद पर तैनात किया गया है। इसी प्रकार 1988 बैच के अफसर विजय कुमार को एडीजी, एटीसी सीतापुर के पद से हटाकर एडीजी सुरक्षा के पद पर तैनात किया गया है।
इसी क्रम में 1989 बैच के आईपीएस अफसर आदित्य मिश्र को एडीजी ई.ओ.डब्लू. और लॉजिस्टिक के पद से हटाकर एडीजी लॉ एंड ऑर्डर बनाया गया है। 1990 बैच के आईपीएस अफसर दलजीत सिंह चैधरी को एडीजी लॉ एंड ऑर्डर के पद से हटाकर एडीजी ई.ओ.डब्लू. एवं लॉजिस्टिक बनाया गया है। इसी प्रकार से 1995 बैच के प्रतिक्षारत आईजी आलोक सिंह को आईजी पीएसी ईस्टर्न जोन बनाया गया है। 1993 बैच के आईपीएस अधिकारी संजय सिंघल को आईजी, डीजी ऑफिस के पद से हटाकर आईजी पीएसी मध्य जोन बनाया गया है। जबकि 1996 बैच के आईपीएस अफसर नवनीत सिकेरा को आईजी, पीएसी मध्य जोन के पद से मुक्त कर दिया गया है। अब वे आईजी वुमन पॉवर लाइन, लखनऊ बने रहेंगे।

Share

Leave a Reply

Share