Breaking News

हम केवल शिलान्यास ही नहीं करते वरन् लोकार्पण भी करते हैं: पीएम मोदी

 m 1

विजय श्रीवास्तव
-पीएम ने किया ट्रेड फैसिलिटी सेंटर का उद्घाटन
-17 योजनाओं को दिखायी हरी झंडी
वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने संसदीय क्षेत्र मंे 17 परियोजना को शिलान्यास किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि उनकी सरकार केवल किसी भी योजना का शिलान्यास ही नहीं करती है बल्कि उसका लोकार्पण भी करती हेै। उन्होंने आज शुक्रवार को ट्रेड फैसिलिटी सेंटर का विधिवत उद्घाटन किया। मालूम हो कि मोदी ने ही स्वंय 7 नवंबर को 2014 को दीनदयाल हस्तकला संकुल नाम के इस ट्रेड फैसिलिटी सेंटर की नींव रखी थी। उन्होंने कहा कि इससे वैश्विक बाजार का बुनकरों का आर्थिक विकास संभव होगा।

m 2

11 वीं बार अपने संसदीय क्षेत्र में पधारे मोदी ने कहा कि यह ट्रेड सेंटर 305 करोड़ की लागत से 43,445 स्क्वॉयर मीटर में बनाया गया है। इससे वाराणसी और उसके आसपास के जिलों से जुड़े करीब 60 हजार बुनकर परिवारों को इसका फायदा मिलेगा। उन्हेांने कहा कि आज एक ही कार्यक्रम में एक ही मंच से एक हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की योजनाओं का शिलान्यास होने जा रहा है। यूपी सरकार को भी इसका श्रेय जाता है। राज्य सरकार भी अभिनंदन की अधिकारी है। जिस योजना का लोकार्पण हो रहा है मैं नहीं मानता कि पिछले कई दशकों में इतने बड़ी कोई योजना साकार हुई हो। जिस योजना का शिलान्यास हम करते हैं उसका उद्घाटन भी हम ही करते हैं। वरना योजनाएं लटकती रहती हैं। दो पुलों का शिलान्यस हुआ था कई साल पहले, लेकिन सपना साकार योगी जी ने किया।

m 3

यूपी में भाजपा का शासन होने के बाद पहली बार पधारे मोदी ने कहा कि बुनकरों के लिए जो भी योजनाएं बनाईं। अब इन्हें साकार कर रहे हैं। जंगल में मोच नाचा किसने देखा? यही हाल रहता तो कभी विश्व के सामने अपने कौशल दिखाने का मौका नहीं मिलता। छोटे-छोटे बुनकर और शिल्पकार जो निर्माण करते हैं अगर उसको वैश्विक बाजार नहीं मिलता तो उनका विकास लटक जाता है। इन लोगों ने मुझसे कहा था कि हमारे बच्चे इस कला से जुड़ना नहीं चाहते। तभी मुझे लगा था कि अगर इन परिवारों से यह कला छूट जाएगी तो इतिहास हमें माफ नहीं करेगा। दुनिया भी भारत की इन विशेषताओं के प्रति आकर्षित हो रही है। 300 करोड़ की लागत से बनी यह सिर्फ इमारत नहीं है। ये भविष्य के नए दरवाजे खोलने की ताकत रखती है। मैं यहां के टैक्सी और ऑटो रिक्शा ड्राइवरों से आग्रह करता हूं कि वो विदेश टूरिस्ट्स को यहां जरूर लाएं।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि अगर हमारें गरीबों के हाथ में ताकत आ जाये ।तो देश की तकदीर बदल जाये। आप किसी भी गरीब से पूछे कि क्या आप जैसी जिन्दगी गुजारी है उसी तरह से ही अपने बच्चों को जीवन देना चाहते है। तो वह यह नहीं कहेगा कि हम तो किसी तरह से जिन्दगी जी लिया लेकिन हमारें बच्चों को ऐसी जिन्दगी न मिले। हर गरीब का सपना है वहीं हमारी सरकार भी सपना वहीं है। इसी लिए हर व्यक्ति अपने पैरों पर खडा होने की ताकत देने का प्रयास किया जा रहा है।
मोदी ने कहा कि हमने जाम की समस्या से निजात पाने के लिए ही जल मार्ग की दिशा में कई प्रयास किया है। आज उसी क्रम मंे आज जल एम्बुलेंस का उद्घाटन किया। हमने बडोदरा व वाराणसी से चुनाव लडा था। लेकिन हमने वाराणसी को चुना आज हमने महामना एक्सप्रेस के माध्यम से बडोदरा व वाराणसी को जोडने का काम किया है।
पीएम मोदी ने इन परियोजनाओं का लोकार्पण किया
– वाराणसी से वडोदरा न्यू महामना एक्सप्रेस ट्रेन (22904) को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। प्रत्येक शुक्रवार सुबह 6.10 बजे वाराणसी से रवाना होगी।
– कज्जाकपुरा उपकेंद्र व छह उपकेंद्रों की कैपेसिटी रू 16.20 करोड़
– गरथौली उपकेंद्र रू 7 करोड़
– सामने घाट पुल रू गंगा नदी पर 90 करोड़ से ज्यादा की लागत से बना 923.95 मीटर लंबा पुल।
– बलुआ घाट पुल रू 87.47 लाख की लागत से गंगा नदी पर पुल।
– उत्कर्ष बैंक मुख्यालय
– मालवीय एविक्स सेंटर, बीएचयू रू 15 करोड़
– डी-सेंट्रलाइज्ड वेस्ट-टू-एनर्जी, पहड़िया, एसटीपी रू 2 करोड़
– दुर्गाकुंड सौंदर्यीकरण रू 2.58 करोड़
– लक्ष्मीकुंड सौंदर्यीकरण रू 1.80 करोड़
– सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आराजीलाइन में 30 बेड का मैटरनिटी विंग रू 2.77 करोड़
– चोलापुर में 80 व्यक्तियों के लिए बैरक निर्माण रू1.25 करोड़
– बुद्धा थीम पार्क, सारनाथ रू 2.56 करोड़
– सारंगनाथ तालाब का सौंदर्यीकरण रू 2.92 करोड़
– गुरुधाम मंदिर रू 0.82 करोड़
– मार्कंडेय महादेव मंदिर व गंगा घाट, कैथी का विकास रू 3.03 करोड़
– राजकीय पशुधन एवं कृषि प्रक्षेत्र आराजीलाइंस का सुंदर बनाना रू लागत 3.65 करोड़

Share

Related posts

Share