हाईस्कूल सीबीएससी बोर्ड के छात्रों को पढ़ना होगा अब 6 विषय

cbsc

-एक विषय के रूप में वोकेशनल विषय  हुआ अनिवार्य
-अब इस वर्ष दसवीं की तैयारी कर रहे छात्रों को देना होगा वोकेशनल विषय परीक्षा
नई दिल्ली। सीबीएससी बोर्ड के हाईस्कूल की परीक्षा दे रहे छात्रों को अब पांच विषय के साथ ही एक विषय के रूप में वोकेशनल विषय की परीक्षा देनी होगी। यानि अब अगर आप 2017-18 में हाईस्कूल की परीक्षा की तैयारी कर रहे है तो आपको एक वोकेशनल विषय अनिवार्य होगा। अभी तक 10वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए छात्रों को पांच विषय- दो भाषा, सोशल साइंस, गणित और विज्ञान पढ़ना पड़ता था।
गौरतलब है कि सीबीएससी ने नेशनल स्किल क्वॉलिफिकेशन फ्रेववर्क के तहत उन स्कूलों को छूट दी है जो अपने स्कूल में वोकेशनल विषय को अनिवार्य रूप में पढ़ा रहा है। ऐसे स्कूलों का कोई छात्र यदि साइंस, सोशल साइंस और गणित में फेल होता है तो उस विषय को अनिवार्य किए गए वोकेशनल विषय से बदल दिया जाएगा। इसी तर्ज पर ऐसे स्कूलों के छात्रों का आंकलन बोर्ड परीक्षा में भी किया जाएगा। बोर्ड ने बताया कि एक विषय मंे फेल होने वाले छात्र उस विषय में कंपार्टमेंट परीक्षा दे सकते हैं और आपके साल को खराब होने से बचा सकते हैं।
वोकेश्नल विषय इस 13 विषयों की लिस्ट से चुनें छात्र
1. डायनमिक्स ऑफ रीटेलिंग
2. इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी
3. सिक्योरिटी
4. ऑटोमोबाइल टेक्नोलॉजी
5. इंट्रोडक्शन टू फाइनेनशियल मार्केट
6. इंट्रोडक्शन टू टूरिज्म
7. ब्यूटी एंड वेलनेस
8. बेसिक एग्रीकल्चर
9. फूड प्रोडक्शन
10. फ्रंट ऑफिस ऑपरेशन्स
11. बैंकिंग एंड इंश्योरेंस
12. मार्केटिंग एंड सेल्स
13. हेल्थ केयर सर्विसेज
10 वीं बोर्ड परीक्षा के लिए जारी सीबीएससी के सर्कुलर के मुताबिक परीक्षा का अधिकतम पूर्णांक 100 होगा. इस 100 पूर्णांक में से 50 अंक स्कूल के इंटरनल असेसमेंट और प्रैक्टिकल परीक्षा के होंगे। वहीं किसी विषय में पास होने के लिए छात्र को दोनों बोर्ड परीक्षा और प्रैक्टिकल परीक्षा में न्यूनतम 33 फीसदी नंबर चाहिए। इसके साथ ही सीबीएससी ने 12वीं की बोर्ड परीक्षा से 7 एकैडमिक इल्केटिव विषय और 34 वोकेश्नल विषयों को परीक्षा सूची से बाहर कर दिया है.। बोर्ड ने यह फैसला इन विषयों में कम छात्र होने के कारण किया है।

Share

Leave a Reply

Share