Breaking News

हादसों का शहर बनारस, फिर शिवपुर में निर्माणाधीन फ्लाइओवर की कंक्रीट सेंटरिंग गिरी, हादसा टला, 16 दिन में तीसरी घटना

pull 1

विजय श्रीवास्तव
-जिलाधिकारी ने दिया मजिस्ट्रीरियल जॉच का आदेश
-ढ़ीला था कंक्रीट सेटेरिंग प्लेट का नट
वाराणसी। प्रधानमंत्री मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी इस समय हादसों के रूप मंे तब्दील हो चुकी है। मानक मापदण्डों को दरकिनार विकास कार्यो की अंधी दौड में एक बार फिर बनारस में बडा हादसा हुआ। जब शिवपुर में निर्माणाधीन फ्लाइओवर की कंक्रीट सेंटरिंग गिर गई। जानकारी के अनुसार कंक्रीट सेटेरिंग प्लेट का नट ढ़ीला था जिससे यह हादसा हुआ लेकिन यह भगवान का ही शुक्र था कि यह हादसा सुबह चार बजे हुआ जिससे कोई हादसे का शिकार नहीं हुआ अन्यथा एक बार फिर चैकाघाट पुल काण्ड की पुनरावृत्ति से इंकार नहीं किया जा सकता था। डीएम योगेश्वर राम मिश्र ने घटना के मजिस्ट्रेटियल जांच के आदेश दे दिए हैं।

pull 2

गौरतलब है कि 15 मई को कैण्ट स्टेशन के समीप 15 मई को निर्माणाधीन चैकाघाट पुल के फ्लाइओवर के दो बीम अचानक गिरने से 18 लोग की मौत हो गयी थी। यह हादसा शाम को पांच बजे हुई थी। हादसे के बाद शहर में हडकम्प की स्थिति उत्पन्न हो गयी थी आनन-फानन में उस दौरान डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य सहित सीएम योगी आदित्यनाथ स्वंय उसी दिन पहुंच कर जांच का आदेश भी दे दिया। जिसकी रिपोर्ट भी आ गयी। उस रिपोर्ट में सेतु निगम को ही जिम्मेदार ठहराया गया है। डिप्टी सीएम ने सेतु निगम के करीब आधा दर्जन लोगों को निलंबित कर दिया था। फिर 14 दिन बाद 29 मई को उसी फ्लाइओवर की और दो बीम खिसक गई लेकिन गनीमत था कि कोई हादसा नहीं हुआ। अलबत्ता यातायात विभाग ने फौरन फ्लाइओवर के इर्द-गिर्द पैदल चलने वालों पर रोक लगा दी।

meridiyan 1

परियोजना प्रबन्धक राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण पंकज सिंह ने बताया कि वाराणसी-बाबतपुर 4 लेन सड़क चैड़ीकरण में निर्माणाधीन फ्लाईओवर के निर्माण कार्य के दौरान तरना के पास कंक्रीट सेटेरिंग प्लेट का नट ढ़ीला था। जिसके छटकने के कारण शुक्रवार की भोर में करीब 4 बजे 12 मीटर की कंक्रीट सेटेरिंग प्लेट खुल कर लटक गई। सिंह के मुताबिक मौके पर मौजूद अधिकारियों की सजगता के कारण तुरन्त उक्त प्लेट को नीचे उतार लिया गया। उन्हांेने बताया कि फ्लाईओवर निर्माण के दौरान सुरक्षा मानको के अनुरूप इस मार्ग को पूर्व से ही बंद कर रूट डाइवर्ट किया गया है। जिस कारण मौके पर किसी भी प्रकार की दुर्घटना नही हुई। घटना की जानकारी होते डीएम योगेश्वर राम मिश्र ने वाराणसी-बाबतपुर 4 लेन सड़क चैड़ीकरण में निर्माणाधीन फ्लाईओवर के निर्माण कार्य के दौरान तरना के पास कंक्रीट सेटेरिंग प्लेट खुलने की घटना को गंभीरता से लेते हुएमजिस्ट्रीरियल जॉच का आदेश दिया। उन्होने उक्त घटना की जॉच के लिए अपर जिनलाधिकारी नगर वीरेन्द्र पाण्डेय को जॉच अधिकारी नामित करते हुए शीघ्र जॉच रिर्पोट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

 

Share

Related posts

Share