Breaking News

हैदराबाद में महिला डॉक्टर से हैवानियत के बाद हत्या के चारों आरोपी को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया

क्राइम डेस्क
-चारों आरोपियों को पुलिस ने आज सुबह घटना स्थल पर क्राइम सीन के लिए लाया था
-पुलिस का रिवाल्वर छीन कर भागने का कर रहे थे प्रयास
-हैदराबाद में जसि हाइवे एनएच 44 पर 27 नवंबर की रात हुई थी घटना

नई दिल्ली। हैदराबाद में 27 नवम्बर को लेडी डॉक्टर के साथ गैंगरेप के बाद हुई हत्या के बाद पूरे देश में जबरस्त आक्रोश था। आज सुबह पुलिस ने घटना में चारों आरोपित को घटना स्थल पर क्राइम सीन शाट करने के दौरान भागने की कोशिश करने पर पुलिस ने चारों आरोपितों को मार गिराया। तेलंगाना पुलिस ने कहा है कि महिला डॉक्टर के दुष्कर्म और हत्या के सभी चारों आरोपियों को एनकाउंटर में मार गिराया गया है। यह घटना आज सुबह उसी हाइवे पर हुई, जहां गंैगरेप की घटना को ओरोपियों ने अंजाम दिया था।
हैदराबाद के तेलंगाना पुलिस ने अपने रिपोर्टों में कहा है कि पुलिस क्राइम सीन रिक्रिएट करने के लिए आरोपियों को मौका-ए-वारदात (नेशनल हाइवे-44) पर ले गई थी लेकिन मौके का फायदा उठाते हुए वे फरार होने लगे। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई में फायरिंग की जिसमें सभी आरोपी मारे गए। गौरतलब है कि 27-28 नवंबर की रात को हैदराबाद में 27 साल की महिला डॉक्टर उस समय हैवानियक की शिकार हो गई जब रात 9 बजे के आस-पास उसकी स्कूटी पंक्चर हो गई थी। रिपोर्टों में कहा गया है कि जब वह स्कूटी पार्क कर रही थी, तभी हैवानों ने उसकी स्कूटी की हवा कथित तौर पर निकाल दी थी और मदद के बहाने उसके साथ दरिंदगी करने के बाद उसकी हत्या कर दी थी। 27 साल की महिला डॉक्टर की सामूहिक दुष्कर्म के बाद बर्बर हत्या की वारदात से पूरा देश आंदोलनरत था। सड़क से संसद तक जल्द से जल्द इंसाफ दिए जाने की मांग उठ रही थी। बताया जाता है कि आज क्राइम सीन शाट करने के दौरान आरोपी आरोपी मोहम्मद आरिफ ट्रक ड्राइवर पुलिस का रिवाल्वर छीन कर भागने के साथ तीनों को भागने का इशारा किया। जिसपर तीनों भागने लगे। जिसपर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए चारों को मार गिराया। चारों बचपन के दोस्त थे। वैसे इस घटना पर जहां एक ओर देश में लोग आरोपित को तत्काल एनकाउंटर पर खुश हैं वहीं पुलिस पर भी सवालिया निशान खडें हो गये हैं।
वैसे इस घटना के बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 48 घटना में चारों आरोपितों को पकड लिया था। पुलिस की जांच में कई खुलासे हुए थे और आरोपियों का वीडियो और पूरी कुंडली सामने आ गई थी। उधर आरोपियों को हैदराबाद की केरलाकुल्ली जेल में बंद किया गया था। इस दौरान पुलिस ने उन्हें रिमाण्ड पर ले भी लिया था। हैदराबाद में जब पुलिस आरोपियों को लेकर थाने पहुंची तो उसकी भनक लोगों को लग गई थी। इसके बाद कुछ ही देर में सैकड़ों लोगों ने थाना घेर लिया था. इसके बाद पुलिस ने उस थाने की सुरक्षा बढ़ा दी थी और बाद में उन्हें हैदराबाद की जेल में ले जाया गया था। चारों आरोपियों को केरलाकुल्ली सेंट्रल जेल के अलग-अलग बैरक में रखा गया था। बताया जा रहा है कि उन्हें अलग इसलिए रखा गया है ताकि वे एक दूसरे को नुकसान ना पहुंचा सकें और वे कोई ऐसा कदम न उठाएं जिससे जांच प्रभावित हो। इसी क्रम में आज पुलिस उसी हाइवे पर जहां गैंगरेप की घटना हुई थी, उसी स्थान पर लेकर सुबह क्राइम सीन को शाट कर सबूत बटोरने तथा दोषियों को जल्द से जल्द सजा दिलानें के लिए ले कर गयाी थी। उसी पर चारों आरोपी भागने लगे जिसपर पुलिस ने चारों को एनकाउंटर में मार गिराया।

Share

Related posts

Share