Breaking News

1 दिसंबर से मोबाइल टैरिफ हो सकते हैं महगें, बैंक-बीमा-पेंशन नियमों में हो जायेगें बदलाव



विजय श्रीवास्तव
-बदल जाएंगे बैंक-बीमा से जुड़े कई नियम
-बीमा कंपनियों की प्रीमियम होंगे थोड़े महंगे
-आईडीबीआई बैंक के नियम में बदलाव
-अब 24 घंटे नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर कर सकेंगे ग्राहक
-पेंशन से जुड़े नियमों में होंगे बदलाव
वाराणसी। 2019 के अन्तिम माह की पहली तारिख से आप पर महंगाई की फिर मार पडने जा रही है। 1 दिसंबर से फोन बिल महंगे हो जायेंगे वहीं, इसके साथ ही कई बैंक-बीमा से जुड़े नियम में सरकार बदलाव करने रही है। पेंशन से जुड़े नियम में भी सरकार कल से बदलाव की तैयारी कर रही है।
मोबाइल कम्पनियों वोडाफोन-आइडिया, एयरटेल के अलावा रिलायंस जियो की ओर से दिसंबर में टैरिफ बढ़ाने की घोषणा की गई थी। अगर टेलीकॉम सेक्टर से जुड़े लोगों की मानें तो कंपनियां टैरिफ में 10 से 15 फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती हैं। इसके पीछे यह तर्क यह दिया जा रहा है कि एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू की वजह से भारत की दिग्गज टेलीकॉम कंपनियां पर सरकार का 1 लाख करोड़ से अधिक बकाया है। सरकार के बकाये को टेलीकॉम कंपनियों को जल्द से जल्द देना है। जिसके चलते मोबाइल कम्पनियाॅ अपने ग्राहकों से ही यह पैसा वसूलने के लिए 10 से 15 प्रतिशत बढ़ोतरी कर सकती हैं।
इसके साथ ही बीमा नियमों में बदलाव के तहत 1 दिसंबर यानी कल से इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवेलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया बीमा नियमों में बदलाव करने जा रही है। नए नियम के तहत एलआईसी समेत अन्य बीमा कंपनियों की प्रीमियम थोड़ा महंगा हो सकता है तो वहीं गारंटीड रिटर्न थोड़ा कम हो सकता है। वहीं बीमा कम्पनियां मैच्योरिटी निकालने, मैच्योरिटी से पहले निकासी करने के अलावा इन्वेस्टमेंट और पेंशन प्लान को ज्यादा कस्टमर फ्रेंडली बनाए जाने की संभावना है। पॉलिसी लेने वाला गारंटीड रिटर्न लेना चाहता है या नहीं, उसके लिए स्वतंत्र होगा।
अगर आप आईडीबीआई बैंक के ग्राहक हैं तो 1 दिसंबर से आपके लिए एटीएम से जुड़े नियम बदलने वाले हैं। आईडीबीआई बैंक के ग्राहक अगर किसी दूसरे बैंक के एटीएम से लेन-देन करता है और कम बैलेंस के कारण लेन-देन फेल हो जाता है तो उसे 20 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन देना होगा।
1 दिसंबर यानी कल से बैंक ग्राहक अब 24 घंटे नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर कर सकेंगे। अब तक एनईएफटी दूसरे और चैथे शनिवार को छोड़कर ग्राहकों के लिये सुबह 8 बजे से शाम 7 बजे तक के लिए उपलब्ध है। इसके साथ ही सरकार लोन के लिए भाग दौड से ग्राहकों को मुक्ति दिलाते हुए बिना बिना कागजी कार्रवाई के आपके बैंक खाते में पूर्ण स्वीकृत के साथ लोन प्राप्त करनें की सुविधा भी मुहैया कराने की तैयारी कल सके कर सकती है।

Share

Related posts

Share