Breaking News

9 अगस्त को पुरानी पेंशन की मांग को लेकर जिला मुख्यालयों पर कर्मचारी करेंगे धरना-प्रदर्शन

shashi

विजय श्रीवास्तव
-एनपीएस योजना कर्मचारियों के साथ छलावा
-मांग पूरी न होने पर 29, 30 ,31 अगस्त को कार्य बहिष्कार
-संगठनों के पुरानी पेंशन की मांग को लेकर तेवर तख्त
वाराणसी। कर्मचारी शिक्षक अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच उत्तर प्रदेश का वाराणसी मंडली सम्मेलन वाराणसी के कमिश्नरी सभागार में संपन्न हुआ। इस दोैरान वक्ताओं ने केन्द्र सरकार की एन.पी.एस. योजना को कर्मचारियों के साथ छलावा बताते हुए पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने की पुरजोर मांग की। इस दोैरान राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उत्तर प्रदेश एवं लोक निर्माण विभाग डिप्लोमा इंजीनियर संघ आदि संगठनों के लोग उपस्थित रहें। वक्ताओं ने चेतावनी दी है कि 9 अगस्त को कर्मचारी व अधिकारी प्रदेश के प्रत्येक मुख्यालयों पर धरना-प्रदर्शन करेंगे। यदि सरकार उनकी मांग नहीं मानती है तो अगस्त के अन्त में तीन दिन का कार्य बहिष्कार करते हुए आरपार की लडाई लडी जायेगी। 

CHANDIMA 1

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिवबरनसिंह यादव ,महामंत्री, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उत्तर प्रदेश एवं श्री दिवाकर राय वरिष्ठ उपाध्यक्ष लोक निर्माण विभाग डिप्लोमा इंजीनियर संघ राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद रहे सम्मेलन को संबोधित करते हुए शिवबरन सिंह यादव ने कहा केंद्र सरकार द्वारा लाई गई एन.पी.एस. योजना कर्मचारियों के साथ छलावा है। पुरानी पेंशन बहाल किए जाने हेतु उत्तर प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री एवं गोरखपुर के तत्कालीन सांसद योगी आदित्यनाथ जी ने वर्ष 2013 में तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह को पत्र लिखकर पुरानी पेंशन की प्रासंगिकता बताते हुए उसकी पैरवी की थी इतना ही नहीं अन्य भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने इसकी मांग की थी। आज जब भाजपा केन्द्र व प्रदेश दोनंों में है तो उसे पुरानी पेंशन बहाल करने के अपने प्रयासों को मूर्त रुप देने का समय आ गया है। मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री को तत्काल पुरानी पेंशन बहाल किए जाने की घोषणा कर लाखों कर्मचारियों के हितों की रक्षा करनी चाहिए।

LOHIYA 1

सम्मेलन को परिषद के प्रांतीय उपाध्यक्ष उपाध्यक्ष दिवाकर राय जी ने पुरानी पेंशन बहाली योजना के लिए कर्मचारी शिक्षक अधिकारी पुरानी पेंशन बहाली मंच के गठन की पूरी जानकारी प्रदान करते हुए उपस्थित कर्मचारी समुदाय को अवगत कराया कि 9 अगस्त 2018 को प्रत्येक जिला मुख्यालय पर जिले के समस्त कर्मचारी शिक्षक और अधिकारी एकत्रित होकर धरना और प्रदर्शन आयोजित करेंगे और संबंधित जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपेंगे। यदि उसके बाद भी मांग पूरी नहीं की जाती है तो 29, 30 ,31 अगस्त को कार्य बहिष्कार और धरने का कार्यक्रम होगा मांग पूरी ना होने पर 8 अक्टूबर 2018 को लखनऊ में महारैली उसके बाद भी यदि सरकार नहीं मानती है तो विवश होकर दिनांक 26 27 और 28 अक्टूबर 2018 को अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा कर दी जाएगी जिसकी समस्त जिम्मेदारी सरकार की होगी।

AASSHHOOKK 2

सम्मेलन को राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिला अध्यक्ष पुरानी पेंशन बहाली मंच के जिला संयोजक शशिकांत श्रीवास्तव, प्राथमिक शिक्षक संघ वाराणसी के अध्यक्ष और पुरानी पेंशन बहाली मंच वाराणसी के अध्यक्ष श्री संतोष कुमार सिंह राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रांतीय उपाध्यक्ष एवं खाद्य प्रसंस्करण तकनीकी कर्मचारी संघ के प्रांतीय अध्यक्ष नागेंद्र सिंह परिषद के वाराणसी जनपद के संरक्षक महिमा द्विवेदी विशिष्ट बीटीसी शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश मीडिया प्रभारी शशांक शेखर पांडेय, एजुकेशन मिनिस्ट्रीयल ऑफिसर्स एसोसिएशन के जिला मंत्री सुभाष सिंह, दीपेंद्र श्रीवास्तव ,अनिल कुमार सिंह ,अरुण कुमार सिंह विजय राम वर्मा ,रत्नेश अग्रवाल राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के मंडल अध्यक्ष परशुराम यादव राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद वाराणसी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष दिवाकर द्विवेदी राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिला मंत्री श्याम श्याम राज यादव यादव कर्मचारी संयुक्त परिषद के चंदौली जिला अध्यक्ष महेंद्र लाल श्रीवास्तव संघर्ष समिति के चेयरमैन मदन मोहन श्रीवास्तव प्राथमिक शिक्षक संघ चंदौली के जिला अध्यक्ष सुनील कुमार सिंह प्राथमिक शिक्षक संघ वाराणसी जनपद के महामंत्री कैलाश नाथ यादव श्रम कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अंजनी कुमार राय , सनत कुमार सिंह चकबंदी लेखपाल संघ के जिला अध्यक्ष गौरव जायसवाल, शिक्षक एवं कर्मचारी नेताओं ने संबोधित किया सम्मेलन में सिंचाई संघ के दिनेश द्विवेदी उपाध्यक्ष अभिषेक सिंह संगठन मंत्री वी.के सिंह के.डी पांडये शिक्षक संघ के जिला मंत्री कैलाश नाथ यादव, कौशल कुमार सिंह ,अनूप कुमार सिंह ज्योति भूषण त्रिपाठी सुनील कुमार सिंह उमाकांत शर्मा संजय सिंह राकेश पांडे दरोगा सिंह मनीष कुमार पांडे अशोक कुमार दुर्गा सिंह श्याम नारायण अशोक सिंह संजीव राय एवं संजय पांडे सहित सैकड़ों कर्मचारी एवं शिक्षकों ने मंडलीय सम्मेलन में प्रतिभाग किया।

 

Share

Related posts

Share