Breaking News

अपडेट : 5 मई को भयंकर ’आंधी-तूफान-बारिस‘ की मौसम विज्ञान ने दी चेतावनी, बुधवार को तूफान से 114 लोगों की गई जान

tuphan 1

विजय श्रीवास्तव
-मौसम विज्ञान के चेतावनी के बाद यूपी में अलर्ट जारी
-प्रदेश के 33 शहरों में हा सकता है तेज आंधी-तूफान-बारिस
वाराणसी। उत्तर भारत में बुधवार देर रात आए भयंकर तूफान में मरने वालों की संख्या बढ़कर 114 हो गई है। इनमें से 73 उत्तरप्रदेश और 36 जनों की राजस्थान में मौत होने की पुष्टि हुई है। वहीं कुछ अन्य प्रदेशों में भी 2 दर्जन से अधिक लोंगो के मरने की खबर है। यूपी में 83 लोग घायल, 105 जानवरों की मौत हो गई है। इसी दोैरान मौसम विज्ञान के 5 मई को उत्तर प्रदेश के लगभग तीन दर्जन शहरों में भयंकर धूलयुक्त तूफान-आध्ंाी-बारिस की चेतावनी से दहशत का माहौल है। चेतावनी को देखते हुए उत्तरप्रदेश सरकार ने आगामी 48 घंटे का अलर्ट जारी किया है।

tuphan 2

प्रदेश सरकार के मौसम विज्ञान के डायरेक्टर जेपी गुप्ता ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए 5 मई को धूल युक्त आंधी-तूफान, जोरदार वारिस की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश के गोरखपुर, बलिया, मउ, गाजीपुर, अम्बेडकरनगर, बस्ती, कुशीनगर, महराजगंज, सिद्धार्थ नगर, गोण्डा, बलरामपुर, श्रावस्ती, सीतापुर, बहराइच, खेरी, शाहजहाॅपुर, पीलीभीत, रामपुर, बरेली, बदाउ, अलीगढ, एटा, महामायानगर, मथुरा, जेपीनगर, बुलन्दशहर, मुरादाबाद, मेरठ, मुज्जफरनगर, बिजनौर व बागपत जिलों में भयंकर धूलयुक्त आंधी-तूफान-बारिस की आ सकता है। जिसको देखते हुए प्रदेश सरकार ने 48 घंटे का अलर्ट जारी कर दिया है।

times 2

गौरतलब है कि बुधवार की देररात को आये भंयकर तूफान से राजस्थान में भारी तबाही हुई। जिससे जहां 36 लांेगो की जान चली गयी वहीं आगजनी से करोडो रूपये की सम्पत्ति जल कर राख हो गयी। राजस्थान के बसेड़ी उप खंड के लेवड़ा पुरा, क्यारपुरा ओर पिपरी पुरा गांवो में तूफान से आग लगने से कई ग्रामीणों के मकान जल गए। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अधिकारियों को बिना किसी औपचारिकता के लोगों को मुआवजा देकर जल्द से जल्द राहत देने के आदेश दिए हैं। तूफान से सबसे ज्यादा नुकसान उत्तरप्रदेश के आगरा में हुआ है यहां 36 लोगों की मौत हुई है।

 

 

 

 

 

 

 

Share

Related posts

Share