Breaking News

स्कूली बच्चों को साइबर क्राइम से बचाव हेतु जागरूकता बहुत जरूरी, जौनपुर में केराकत सीओ ने दिए टिप्स

स्कूली बच्चों को साइबर क्राइम से बचाव हेतु जागरूकता बहुत जरूरी, जौनपुर में केराकत सीओ ने दिए टिप्स

पंकज तिवारी
-केराकत सीओ शुभम तोदी ने लडकियों को भी सुरक्षा के दिए टिप्स

जौनपुर। बदलते समय के अनुसार अपराध का स्वरूप भी बदल गया है। अपराधियों के लिए आनलाइन अपराध आज के समय में सबसे आसान हो गया है। यह इतना बड़ा रूप ले चुका है कि इसमें लाखों लोग फंसते रहते हैं। जिसे आज साइबर क्राइम कहते हैं। साइबर क्राइम से बचने के लिए जागरूकता, ज्ञान और सावधानी बहुत जरूरी है।


उक्त बातें आज जौनपुर के केराकत तहसील में पब्लिक इंटर कॉलेज में लगभग 3000 बच्चों के मध्य वृहद रूप में साइबर सुरक्षा सम्बन्धी एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए केराकत के सीओ शुभम तोदी ने कही। इस कार्यक्रम में कक्षा 6 से 12 तक के 16 वर्ष से 20 वर्ष तक के बच्चों ने बढ़ चढ़ कर भागीदारी की । लगभग सवा घंटे के अपने सम्बोधन में श्री तोदी ने छात्र-छात्राओं को अपने व्यक्तिगत जानकारी किसी को भी शेयर न करने का मंत्र दिया। अपना डाटा शेयर करते समय हमेशा सावधानी बरतें। उन्होंने कहा कि अगर हम अपने व्यक्तिगत जानकारी व डाटा के प्रति सजग व सावधानी रहेंगे तो हम साइबर क्राइम से बहुत हद तक अपना बचाव कर सकते हैं।


उन्होंने कहा कि सरकार समय-समय पर इस बारें में प्रिन्ट-इलेक्ट्रानिक माध्यम से जानकारी मुहैया कराती रहती है। जिसे हमें ध्यान से देखना व सुनना चाहिए। इससे हम सभी साइबर क्राइम से बच सकते हैं। उन्होंने कहा कि फेसबुक व अन्य सोशल साइट्स से साइबर क्रिमिनल आपका डाटा चुराते हैं। अपना डाटा शेयर करते समय हमेशा सावधानी बरतें। सरकार द्वारा बचाव को दी गई सुविधाओं पर ध्यान दें। उनका अनसुरण करें, तभी आप साइबर क्राइम से बच सकते हैं। हर जिले में साइबर क्राइम सेंटर खुला है। किसी भी प्रकार के साइबर क्राइम का शिकार होने पर पुलिस को सूचना दें।
इस दौरान पब्लिक इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ आर डी सिंह ने कहा कि बच्चों को साइबर क्राइम के प्रति मिले ज्ञान से सजो कर रखने की जरूरत है क्योंकि यह उनके लिए बहुत ही लाभप्रद है। आज बच्चें मोबाइल, कम्प्यूटर, वाट्सएप से जब नये-नये जुडते हैं तो जानकारी न रहने के कारण कई बार उनसे गल्तियां हो जाती है और वह अपने व्यक्तिगत जानकारी व डाटा को शेयर कर देते हैं जिससे वे और कभी-कभी पूरा परिवार आर्थिक या अन्य समस्याओं में फंस जाता है।
इस दौरान कालेज के सर्वश्री मुन्ना लाल यादव, डॉ सुमन सिंह, प्रवीण कुमार सिंह, योगेन्द्र कुमार िंसंह, मनोज कुमार सिंह, दयानन्द सिंह सहित अध्यापक व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Share

Related posts

Share