Baba Bageshwar : बाबा बागेश्वर के बयान पर पप्पू यादव भड़के कहां जेल भेज देना चाहिए

Baba Bageshwar : बाबा बागेश्वर के बयान पर पप्पू यादव भड़के कहां जेल भेज देना चाहिए

विवादास्पद बयान के बाद पप्पू यादव ने कहा, ‘ऐसे लोगों को जेल में बंद कर देना चाहिए’

Baba Bageshwar :: हाजीपुर में बागेश्वर धाम के सरकारी पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री (Dhirendra Krishna Shastri) ने एक विवादास्पद बयान दिया है, जिससे एक विवाद की आग उठ गई है। पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने अपने दरबार में कहा है कि हिंदू महिलाओं को मांग में सिंदूर और गले में मंगलसूत्र नहीं होने पर हम यह समझते हैं कि वह प्यार के लिए उपलब्ध नहीं हैं। इस बयान के बाद रविवार (16 जुलाई) को पप्पू यादव (Pappu Yadav) ने तेज विरोध प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को जेल में बंद कर देना चाहिए और उन्हें सजा-ए-मौत देनी चाहिए।

बयान देने से पहले की घटनाएं

पप्पू यादव, जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद, रविवार को हाजीपुर सर्किट हाउस पहुंचे थे, जहां वे अपने कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए आए थे। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं से मिलने के बाद मीडिया के सामने एक बयान दिया है। इस दौरान पप्पू यादव ने कई सवालों का जवाब दिया है। जब पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के विवादास्पद बयान पर सवाल पूछा गया, तो पप्पू यादव ने उसे तेजी से विरोध किया है।

बाबा बागेश्वर का बयान

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने अपने बयान में ग्रेटर नोएडा के बाबा धाम में दिए गए एक कथा के संदर्भ में कहा है। उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादा श्राप वो लोग बरते हैं जो जामुन के फल पर इतना फाउंडेशन लगा देते हैं। हिंदू शास्त्रों के आधार पर उन्होंने यह बात साबित करने की कोशिश की कि श्रृंगार के लिए इतना अधिक श्राप्त नहीं होना चाहिए। वे नहीं चाहते कि अधिक चटर-पटर वाले श्रृंगार को स्वीकारा जाए।

पप्पू यादव का प्रतिक्रिया

पप्पू यादव के बयान के माध्यम से बगावत करते हुए उन्होंने कहा, “धीरेंद्र शास्त्री जैसे लोगों को जेल में बंद कर देना चाहिए। उन्हें सजा-ए-मौत देनी चाहिए और उन्हें सीधे कील से मार देना चाहिए।”

बाबा बागेश्वर ने अपने बयानों के कारण सुर्खियां बटोरी

पहले भी बाबा बागेश्वर ने अपने बयानों के कारण सुर्खियां बटोरी हैं। जहां भी वे जाते हैं, वहां पर हिंदू राष्ट्र बनाने की बात करते हैं। इसलिए उनके बयानों के कारण वहां सियासी उथल-पुथल मची हुई है। कुछ महीने पहले बाबा बागेश्वर पटना, बिहार की राजधानी में आए थे, जहां उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा था। अब फिर से वे सुर्खियों में हैं।

By Vijay Srivastava