Bhagwa Vande Bharat Express : वंदे  भारत एक्सप्रेस को भगवा करने की तैयारी, साथ जुडेंगे कई फीचर, होगी यात्रा और आसान

Bhagwa Vande Bharat Express : वंदे  भारत एक्सप्रेस को भगवा करने की तैयारी, साथ जुडेंगे कई फीचर, होगी यात्रा और आसान

Bhagwa Vande Bharat Express : बंदे भारत एक्सप्रेस को भगवा करने की तैयारी, साथ जुडेंगे कई फीचर, होगी यात्रा और आसान एक नया सफर आरामदायक और रंगीन

वंदे भारत एक्सप्रेस: भारतीय रेलवे का ‘भगवा अवतार’ है, जिसने न केवल रंग बदला, बल्कि कई नए फीचर्स भी जोड़े हैं, जिससे सफर और आरामदायक हो गया है। भारतीय रेलवे अब नई नारंगी और ग्रे थीम वाली वंदे भारत एक्सप्रेस को अलग-अलग रूट पर दौड़ाने की तैयारी कर रहा है। इस दिशा में कदम बढ़ाते हुए भारतीय रेलवे ने नई वंदे भारत एक्सप्रेस का सफलतापूर्वक ट्रायल रन पूरा किया है। यह ट्रेन इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (आईसीएफ) द्वारा निर्मित है और इसका पहला परीक्षण चेन्नई में हुआ, जिसमें रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने स्वयं निरीक्षण किया।

Vande Bharat Express : नए फीचर्स और बदलाव

नई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का ट्रायल रन आईसीई और पाडी रेलवे फ्लाईओवर के बीच किया गया है। इस बार यह 33वीं रेक के रूप में चलेगी और इसमें कई नए बदलाव किए गए हैं।

Vande Bharat Express : सीटों की नयी आरामदायकता

  • सीटें पहले की तुलना में और भी आरामदायक और गद्देदार होंगी।
  • सीट के रिक्लाइनिंग ऐंगल में वृद्धि की गई है, जिससे यात्री और भी आराम से सो सकते हैं।

वॉशरूम की और बेहतरियाँ

  • वॉशरूम की गहराई में वृद्धि की गई है, जो यात्रियों के लिए और भी सुविधाजनक होगा।
  • टॉयलेट्स में लाइट की मात्रा बढ़ाकर यात्रियों को और भी बेहतर रोशनी मिलेगी।
  • टॉयलेट के हैंडल अब और भी फ्लेक्सिबल होंगे, जिससे उपयोग करने में और भी आसानी होगी।

Vande Bharat Express : अन्य बदलाव

  • चार्जिंग पॉइंट की गुणवत्ता में सुधार की गई है, जिससे यात्री अपने डिवाइस्स को और भी आसानी से चार्ज कर सकें।
  • एग्जिक्यूटिव क्लास की सीटों का नया और आकर्षक रंग है, जो यात्रियों के लिए और भी आनंददायक होगा।
  • बेहतर एसी के लिए एयर टाइटनेस में सुधार किया गया है, जिससे यात्रियों को और भी शान्तिपूर्ण और सुखद यात्रा मिलेगी।

नये रूट्स में सफर की तैयारी

वर्तमान में, वंदे भारत एक्सप्रेस भारत में 25 मार्गों पर दौड़ रही है। यह रेल विभिन्न राजधानी शहरों, राज्यों, और केंद्र शासित प्रदेशों को जोड़ती है और इससे यात्रा का समय भी कम हो गया है।

Vande Bharat Express : एक उद्घाटन और उद्देश्य

15 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरी झंडी दिखाकर वंदे भारत एक्सप्रेस की शुरुआत की थी। पहली वंदे भारत एक्सप्रेस नई दिल्ली और वाराणसी के बीच चलती है। इसका उत्पादन भारतीय रेलवे द्वारा किया गया था और इसका मुख्य उद्देश्य देश में आरामदायक और तेज यात्रा के विकास को प्रोत्साहित करना था।

भविष्य में वंदे भारत एक्सप्रेस

वंदे भारत एक्सप्रेस का सफलतापूर्वक ट्रायल रन होने के बाद, इंटीग्रल कोच फैक्ट्री अब स्लीपर कोच वाली वंदे भारत एक्सप्रेस की तैयारी कर रही है। इन नए कोचों का उद्देश्य रात्रि में यात्रा करते समय यात्रियों के लिए और भी आरामदायकता प्रदान करना है। इसके साथ ही, यह उम्मीद है कि यह ट्रेनें अंततः कई अन्य रेलवे क्षेत्रों में राजधानी एक्सप्रेस की तरह चलने लगेंगी। इन नए रूट्स पर ट्रेनों का उत्पादन भारतीय रेलवे विकास निगम लिमिटेड और रूसी टीएमएच द्वारा संभाला जाएगा।

इस प्रकार, भगवा वंदे भारत एक्सप्रेस एक नये सफर का प्रतीक बन चुकी है, जो यात्रियों को आरामदायकता, सुरक्षा, और रंगीन अनुभव प्रदान करती है। इसके अलावा, यह ट्रेन देश की आत्मनिर्भरता की दिशा में भी महत्वपूर्ण कदम है, क्योंकि इसका उत्पादन भारत में ही हुआ है, जो ‘मेक इन इंडिया’ के पहलु को बढ़ावा देता है।

By Vijay Srivastava