वाराणसी : रथयात्रा मेले के लिए ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव

रथयात्रा मेले के दौरान उमड़ने वाली श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कमिश्नरेट की ट्रैफिक पुलिस ने सात से 10 जुलाई तक विशेष रूट डायवर्जन प्लान लागू किया है। यह व्यवस्था रोजाना शाम चार बजे से भोर तीन बजे तक प्रभावी रहेगी। ट्रैफिक एडीसीपी राजेश कुमार पांडेय ने आमजन से अपील की है कि लोग रूट डायवर्जन प्लान का पालन करें और यातायात को सुचारु बनाए रखने में सहायता करें। इस योजना के अंतर्गत एंबुलेंस और शव वाहनों को इस प्रतिबंध से मुक्त रखा गया है।

मुख्य रूट डायवर्जन प्लान

  • बीएचयू, भेलूपुर से: रथयात्रा की तरफ आने वाले वाहनों को कमच्छा से साईं मंदिर की ओर मोड़ दिया जाएगा। ये वाहन आकाशवाणी होते हुए महमूरगंज के रास्ते अपने गंतव्य को पहुंचेंगे।
  • लक्सा से: रथयात्रा की तरफ जाने वाले सभी वाहनों को गुरुबाग तिराहे से नीमामाई तिराहे की ओर मोड़ दिया जाएगा और वे कमच्छा तिराहा होकर अपने गंतव्य को पहुंचेंगे।
  • सिगरा से: रथयात्रा की तरफ जाने वाले सभी वाहनों को सिगरा चौराहे से महमूरगंज और सोनिया पुलिस चौकी की ओर मोड़ दिया जाएगा, वहां से वे अपने गंतव्य को पहुंचेंगे।
  • महमूरगंज से: रथयात्रा की तरफ जाने वाले सभी वाहनों को आकाशवाणी तिराहा से सिगरा की ओर मोड़ दिया जाएगा और वहां से वे अपने गंतव्य को पहुंचेंगे।

पार्किंग और भारी वाहन व्यवस्था

  • सिगरा चौराहा, आकाशवाणी, और नीमामाई तिराहा के पास कार, ऑटो, ई-रिक्शा, मोटर साइकिल, पैडल रिक्शा और अन्य वाहनों के लिए पार्किंग की व्यवस्था की गई है।
  • भारी वाहनों को लेकर विशेष निर्देश भी जारी किए गए हैं, जैसे कि मंडुवाडीह तक आने वाले वाहन नो एंट्री खुलने के बाद मोहनसराय, रोहनिया, चांदपुर, और मुड़ैला होते हुए आ सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *