Breaking News

Tropical Cyclone Tauktae ने कई राज्यों में मचायी भारी तबाही, नौसेना के प्रयास बचे कई नाव

Tropical Cyclone Tauktae ने कई राज्यों में मचायी भारी तबाही, नौसेना के प्रयास बचे कई नाव

विजय श्रीवास्तव
-एक और चक्रवाती तूफान की चेतावनी
-कई राज्यों में अभी भी हो रही है बारिश

नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान ताउते Cyclone Tauktae ने देश के कई राज्यों में जमकर तबाही मचाई है। इसका असर अभी भले की कुछ कम हुआ है लेकिन जाते-जाते भी इस तूफान ने अन्य कई राज्यों में अपना प्रचन्ड रूप दिखा रहा है। देश के कई राज्यों में आज भी जोरदार वारिस, आंधी की स्थिति बनी हुई है। अरब सागर मंे डूबे जहाज पी305 से 186 लोंगो को वैसे निकाला जा चुका है जबकि जहाज में 261 लोग सवार थे। जिसमें अभी 49 लोग लापता बताए जा रहे हैं जबकि अभी तक 26 शव बरामद कर लिए गये हैं। वैसे इस तूफान के समय भारतीय नौसेना ने जिस तरह से लोंगो को जिन्दगी बचाने के लिए अपना जान जोखिम में कर आज भी काम कर रही है, वह काबिले तारिफ है।

Cyclone Tauktae कई नाव बुरी तरह से फंस गये थे


गौरतलब है कि Cyclone Tauktae की चेतावनी 14 तारिख को ही मौसम वैज्ञानिकों ने दे दी थी लेकिन चेतावनी को अनदेखी करने के चलते समुन्द्र में कुल चार बेसल्श बुरी तरह से फंस गये थे। जिसमें मुबई तट के दो बार्ज, गुजरात के पीपाराव का एक बार्ज और एक ड्रिलशिप शामिल था। इन पांचों में कुल 700 से अधिक लोग सवार थे। प्राप्त सूचना के अनुसार अभी तक भारतीय नौसेना के जवानों ने 650 से अधिक लोंगो को बचा भी लिया है। इसी तरह सोमवार को तीन बजरे और एक आॅयल रिंग समुंद्र में फस गये थे जिसमें भी 700 से अधिक लोग शामिल थे। इनको सेना के जवानों ने सुरक्षित निकाल दिया है।

घर बैठे खरीदने के लिए क्लीक करें:

Cyclone Tauktae ने पांच राज्यों को अधित प्रभावित किया


वैसे इस चक्रवाती तूफान ताउते ने विशेष कर पांच राज्यों को अधित प्रभावित किया। केवल गुजरात के 12 जिलों में इस तूफान ने 45 लोंगो की जिन्दगी छीन ली। वहीं अमरेली जिले में 15 लोंगो को मौत हुई है। मौसम विभान के अनुसार अब यह चक्रवाती तूफान कमजोर पड चुका है लेकिन इसका असर अब उत्तर भारत में देखने को मिल रहा हैं जिसके चलते दिल्ली, उत्तराखंड, झारखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार सहित अन्य राज्यों में तेज हवा के साथ वारिश हो रही है। दिल्ली में मई 1976 में हुए वर्षा का रिकार्ड इस Cyclone Tauktae ने तोड दिया। पीएम नरेन्द्र मोदी ने वैसे तूफान का जायजा लेने के लिए बुधवार को गुजरात और द्वीव के प्रभावित इलाकों को हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान उन्होंने 1000 करोड रूपये की वित्तीय सहायता की भी घोषणा की है।

घर बैठे खरीदने के लिए क्लीक करें:


देश के आज कई राज्यों में हो सकती है भारी बारिश


चक्रवाती तूफान ताउते के चलते आज देश के कई राज्यों दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान के कुछ हिस्सों में, अंडमान और निकोबार, छत्तीसगढ, झाारखंड, आंन्ध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के कई भागों में हल्की से तेज बारिश होने की पूरी संभावना है।

घर बैठे खरीदने के लिए क्लीक करें:


एक और चक्रवाती तूफान ‘यास‘ Cyclone YAAS की अब चेतावनी


अभी चक्रवाती तूफान ताउते से लोंगो को निजात नहीं मिली कि एक और Cyclone YAAS ‘यास‘ की चेतावनी ने लोंगो को सकते में डाल दिया है। साइंटिस्ट आरके जेनामनी ने कहा है कि अंडमान के उत्तरी भाग और पूर्वी-मध्य बंगाल की खाडी में एक और चक्रवाती तूूफान बन रहा है। जिसका 22 मई को लो प्रेशर और 23 मई को डिप्रेशन शुरू हो जायेगा। जो 24-25 मई तक चक्रवाती तूफान बना जायेगा। इसका नाम ‘यास‘ है। इसके चलते 26 मई की शाम से ओडिशा पश्चिम बंगाल में बारिश शुरू हो जायेगी। इसको देखते हुए वैसे केन्द्र व राज्य सरकार ने सुरक्षा के कदम उठाने शुरू भी कर दिया है।

Share

Related posts

Share