Health Insurance :  सर्वे से खुलासा, केवल 2% सीनियर सिटीजन्स के पास है हेल्थ इंश्योरेंस

Health Insurance :  सर्वे से खुलासा, केवल 2% सीनियर सिटीजन्स के पास है हेल्थ इंश्योरेंस

Health Insurance:  सीनियर सिटीजन्स के लिए आवश्यकता

स्वास्थ्य इंश्योरेंस भारत में पिछले कुछ सालों में महत्वपूर्ण हो गया है, लेकिन दुखद तरीके से, देश के बड़े सीनियर सिटीजन पॉपुलेशन के लिए यह सुविधा अभी भी अनगिनत है।

सीनियर सिटीजन्स के लिए स्वास्थ्य इंश्योरेंस की महत्वपूर्णता

कोरोना महामारी के बाद से हेल्थ इंश्योरेंस की मांग में वृद्धि हुई है, लेकिन दुखद तरीके से, भारत के एक बड़े हिस्से के सीनियर सिटीजन्स के पास इस स्कीम का लाभ नहीं है। हेल्थ इंश्योरेंस सीनियर सिटीजन्स के लिए सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है, लेकिन आज भी, भारत में 98% बड़े आयुवर्ग के लोगों के पास यह सुविधा नहीं है।

इंश्योरटेक प्लम सर्वे की बड़ी खुलासा

इंश्योरटेक प्लम (Plum) ने हाल के सर्वे में एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। इस सर्वे के मुताबिक, जबकि देश में हेल्थ से जुड़े खर्चों में वृद्धि हुई है, तब भी केवल 2% सीनियर सिटीजन्स के पास हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम है।

बढ़ती बुजुर्गों की संख्या

जनगणना की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में सीनियर सिटीजन की संख्या 13 करोड़ 80 लाख है, और साल 2031 तक इसमें और वृद्धि होने की संभावना है।

स्वास्थ्य इंश्योरेंस की जरूरत

इस सर्वे से यह भी स्पष्ट होता है कि केवल 25% इंश्योरटेक प्लम के 35,000 कस्टमर्स को ही सीनियर सिटीजन्स के लिए हेल्थ इंश्योरेंस सुविधाएं मिलती हैं।

संगठनों द्वारा प्रदान हेल्थ इंश्योरेंस

इस सर्वे के अनुसार, लगभग 29% कर्मचारी को लगता है कि उनकी कंपनी द्वारा प्रदान की जाने वाली हेल्थ इंश्योरेंस सुविधाएं अपर्याप्त हैं। इसके परिणामस्वरूप, कई कर्मचारी संगठन अपनी कंपनियों से और बेहतर कवरेज की मांग कर रहे हैं

By Aryan Singh