दो का पहाड़ा नहीं सुनाया तो बच्चे को ऐसी सजा दी आप भी कांप जायेंगे

छात्र विवान

न्यूज डेस्क
कानपुर। हम सभी ने बचपन में स्कूलों में पाठ न याद करने या पहाड़ा न सुनाने के कारण कभी मुर्गा बनना तो कभी पिटाई की सजा जरूर झेली होगी लेकिन कानपुर में एक उच्च प्राथमिक विद्यालय मॉडल प्रेम नगर में एक बच्चें को दो का पहाड़ा न सुनाने की ऐसी सजा मिली जो शायद वह कभी जीवन में नहीं भूल पायेगा। कक्षा पांच के छात्र ने जब दो का पहाड़ा नहीं सुना पाया, तो उसके हाथ में ही ड्रिल मशीन चला दी। जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार कानपुर जिले के प्रेम नगर इलाके में उच्च प्राथमिक विद्यालय मॉडल आईबीटी संस्था के अनुदेशक ने इस तरह की इंसानियत का शर्मसार करने वाली करतूत को इंजाम दिया। वैसे यह मामला बृहस्पतिवार का है। छात्र जब घर गया तो उसके हाथ में चोट देखकर उसके मॉ-बाप तथा परिजनों से जब शिक्षक के इस तरह के हैवानियत की बात जानी तो वे आज शुक्रवार को स्कूल पहुंच कर हंगामा खडा कर दिया।
छात्र विवान ने बताया कि अनुज सर ने 2 का पहाड़ा सुनाने को कहा था जब हम नहीं सुना पाए तो वह हाथ में ड्रिल मशीन लिए हुए थे और उन्होंने मेरे हाथ में ही चला दी। यह संयोग था कि पास खडें एक लडके कृष्णा ने ड्रिल मशीन का प्लग हटा दिया लेकिन तब तक ड्रिल मशीन चलने छात्र के बाएं हाथ घायल हो गया था।
सबसे हैरत की बात यह है कि छात्र के हाथ में चोट लगने के बाद मामूली उपचार करके उसे वापस लौटा दिया। लोहे से घांव लगने के बाद भी उसे बिना टिटनेस की सूई लगवाए भेज दिया गया और नहीं घर वालों को इसकी जानकारी ही दी गयी कि वे टिटनेस की सूई लगवा लें। शुक्रवार को हंगामा होने पर मौके पर बीएसए पहुंचे। जानकारी के मुताबिक घटना की जानकारी लेते हुए बीएसए ने कहा है ि कवे अनुदेशक को स्कूल से हटाने के साथ कार्रवाई की जा रही है।

Share
Share